नई दिल्ली. 5 राज्यों के सम्पन्न हुए विधानसभा चुनावों में किसी भी पार्टी ने लोकप्रिय चेहरों को अपनी पार्टी से टिकट देने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी थी. लेकिन कुछ लोकप्रिय चेहरों की लोकप्रियता भी जनता को नहीं लुभा सकीं और नतीजतन उन्हें हार का सामना करना पड़ा. इनमें से बीजेपी की रुपा गांगुली, टीएमसी के सोहम चक्रवर्ती और बाइचुंग भूटिया प्रमुख हैं  
 
रुपा गांगुली- महाभारत की द्रौपदी रूपा गांगुली को बीजेपी ने हावड़ा उत्तर से उतारा. लेकिन रुपा पार्टी की अपेक्षाओं पर खरी नहीं उतर सकीं. और हावड़ा उत्तर विधानसभआ सीट पर तीसरे स्थान पर रहीं. इस सीट पर टीएमसी के लक्ष्मी रतन शुक्ला जीते, रुपा गांगुली को कुल 31416 वोट मिले, रुपा गांगुली राज्य में बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं. गांगुली पर वोटिंग के दिन टीएमसी की एक महिला कार्यकर्ता से बदसलूकी का केस दर्ज हुआ और उन्हें जमानत लेनी पड़ी. जाधवपुर यूनिवर्सिटी में विवादित फिल्म बुड्ढ़ा इन ए ट्रैफिक जाम के प्रदर्शन के दौरान बवाल में भी वो शामिल थीं. 
 
सोहम चक्रवर्ती- इन्हें टीएमसी ने बरजोड़ा विधानसभा सीट से उतारा. लेकिन सोहम चक्रवर्ती को मात्र 616 वोटों से लेफ्ट के सुजीत चक्रवर्ती के हाथों हार का सामना करना पड़ा है. लेफ्ट के प्रत्याशी सुजीत को 86873 वोट मिले और सोहम चक्रवर्ती को 86257 वोट मिले.  इस सीट पर 2011 के चुनाव में टीएमसी का प्रत्याशी 8400 वोट से जीता था.
 
बाइचुंग भूटिया- फुटबॉल स्टार बाइचुंग भूटिया टीएमसी की टिकट पर पश्चिम बंगाल की सिलिगुड़ी विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में थे. उनका मुकाबला लेफ्ट दिग्गज अशोक भट्टाचार्य से हुआ. जिसमें भूटिया को 14072 वोटों से हार का सामना करना पड़ा. बता दें कि बाइचुंग भूटिया 2014 में दार्जिलिंग से लोकसभा चुनाव लड़े थे वो बीजेपी के एसएस अहलुवालिया से हार गए थे.  

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App