नई दिल्ली. पनामा पेपर्स लीक मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है. यह याचिका वकील एमएल शर्मा ने दाखिल की है. इस याचिका में पनामा पेपर्स में सामने आये विदेशों में खाता रखने वाले भारतीयों के खिलाफ कोर्ट की निगरानी में सीबीआई जांच कराने की मांग की गई है. वहीं इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी कर सीबीआई, केंद्र सरकार और आरबीआई से जवाब मांगा है. 
 
सेबी के चेयरमैन के खिलाफ FIR की मांग
इसके अलावा याचिका में विजय माल्या का उदाहरण देते हुए स्टाक मार्केट को प्रभावित करने की जानकारी होते हुए कोई कार्रवाई न करने पर सेबी के चेयरमैन और निदेशकों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर मुकदमा चलाए जाने की मांग की गई है. 
 
क्या है याचिका में?
याचिका में शर्मा ने कहा है कि उन्होंने इस बारे में पिछले साल 10 नवंबर और 9 अप्रैल को भारत सरकार व राष्ट्रपति को ज्ञापन दिया था लेकिन उन्हें आज तक उसका कोई जवाब नहीं मिला. इस याचिका को दाखिल करने का नया आधार बीते 3 अप्रैल को पैदा हुआ. जब पनामा पेपर्स लीक प्रकरण में 500 से ज्यादा भारतीयों के विदेशों में खाते होने की खबर छपी. याचिकाकर्ता की यह भी दलील है कि 100 लाख करोड़ ऑफश्योर बैंक अकाउंट में पड़े हैं जिनमें से 25 लाख करोड़ भारत में ही हैं इसकी जांच होनी चाहिए.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App