बेंगलुरू. कर्नाटक की राजधानी स्थित एक निजी अस्पताल में नेचुरोपैथी इलाज के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पुरानी खांसी तथा मधुमेह अब नियंत्रण में है. एक वरिष्ठ चिकित्सक ने यह जानकारी दी. अस्पताल में 10 दिनों तक चला इलाज रविवार को खत्म हो रहा है, जिसके बाद केजरीवाल सोमवार शाम की फ्लाइट से दिल्ली लौट रहे हैं.
 
जिंदल नेचरकेयर इंस्टीट्यूट की चिकित्सा निदेशक बबिना नंदकुमार ने बताया कि केजरीवाल की पुरानी खांसी तथा मधुमेह अब नियंत्रण में है. हमारे इलाज से उनकी स्थिति में सुधार हो रहा है. उन्होंने कहा कि नेचुरोपैथी इलाज से केजरीवाल को काफी फायदा हुआ, जिसमें योग, आहार, विशिष्ठ थेरेपी तथा टहलना शामिल है.
 
केजरीवाल के व्यस्त जीवन को देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें नियंत्रित आहार, समय पर खाना खाने तथा सुबह जल्दी उठने के लिए रात में जल्द सोने की सलाह दी है.उन्होंने कहा, “आगामी बजट सत्र के कारण केजरीवाल यहां ज्यादा दिन रुकने में सक्षम नहीं हैं, इसलिए हमने उन्हें प्राकृतिक चिकित्सा उपचार, आहार तथा कसरत की सलाह दी है.”
 
उल्लेखनीय है कि पांच मार्च को जिस वक्त अस्पताल में केजरीवाल को भर्ती किया गया था उनका रक्त शर्करा 300 एमजी/डीएल था जो घटकर अब 130 पीपी तथा 90 फास्टिंग हो गया है.अस्पताल में केजरीवाल अपनी मां गीता देवी तथा पिता गोविंद राम के साथ ठहरे हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App