नई दिल्ली. अगस्ता वेस्टलेंड मामले को लेकर बवाल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. इस मामले पर वकील एम. एल शर्मा एक बार फिर जनहित याचिका को लेकर सूप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं. दाखिल जनहित याचिका को लेकर सुप्रीम कोर्ट 6 मई को सुनवाई करेगा. बता दें कि एम. एल शर्मा ने अपनी याचिका में इटली कोर्ट के फैसले में आए नामों पर FIR दर्ज करने की मांग की है.
 
बता दें कि शर्मा इससे पहले भी कई विवादित मुद्दों पर याचिका दायर कर चुके हैं. वह इससे पहले कोयला घोटाला को लेकर याचिका दायर कर चुके हैं. शर्मा दिल्ली गैंग रेप मामले में आरोपियों के वकील भी हैं.
 
याचिका में मांग
रिपोर्टस मुताबिक अपनी याचिका में वकील एमएल शर्मा ने कोर्ट से मांग की है कि वह इतालवी अदालत के फैसले को आधार बनाते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, अहमद पटेल समेत दूसरे अन्य लोगों के खि‍लाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश दे.
 
2013 में भी दायर की थी याचिका
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शर्मा ने यह याचिका मूल रूप से 2013 में दायर की थी. उन्होंने मामले की जांच के लिए एसआईटी के गठन की मांग की थी.  लेकिन तब सर्वोच्च अदालत ने उनकी याचिका को खारिज कर दिया था. शर्मा ने नए सिरे से याचिका दायर कर कोर्ट से जांच की अपील की है. साथ ही उन्होंने इसमें अपनी पुरानी याचिका का भी जिक्र किया है.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App