नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के शैक्षिक योग्यता को लेकर डिग्री सार्वजनिक करने के बाद कांग्रेस ने अब उनकी जन्मतिथि पर सवाल उठाया है. कांग्रेस ने इस बार पीएम मोदी की जन्मतिथि में विसंगति होने का आरोप लगाया है. इसके अलावा कांग्रेस ने गुजरात यूनिवर्सिटी द्वारा पीएम की डिग्री को सांझा करने के समय पर भी निशाना साधा है, जिसे यूनिवर्सिटी ने पहले सांझा करने से मना कर दिया था. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्तिसिंह गोहिल ने आरोप लगाते हुए कहा कि इस दौरान स्कूल रजिस्टर की एक फोटो कॉपी भी दिखाई. जिसमें पीएम मोदी यानि नरेन्द्र कुमार दामोदरदास मोदी के स्कूल की उम्र दर्ज है.
 
 
जन्मतिथि पर सवाल
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शक्तिसिंह गोहिल ने कहा कि एम. एन. कॉलेज के छात्र पंजीयक, जिसमें मोदी ने प्री-साइंस (12वीं) में दाखिला लिया था. उसमें सर नरेन्द्र मोदी की जन्म तिथि 29 अगस्त, 1949 है. जबकि उनके चुनावी हलफनामे में उन्होंने अपनी जन्म तिथि नहीं बतायी है बल्कि अपना उम्र लिखी. सार्वजनिक रूप से उपलब्ध उनकी औपचारिक जन्म तिथि 17 सितंबर, 1950 है.
 
 
‘जन्मतिथि में विसंगति के पीछे कारण क्या है’
इसके अलावा गोहिल ने कहा कि हम जानना चाहते हैं कि अलग-अलग जन्मतिथि के पीछे कारण क्या है. उनके पासपोर्ट या पैन कार्ड और अन्य दस्तावेजों में उनकी जन्मतिथि क्या है? और अलग-अलग जन्मतिथि के पीछे कारण क्या है?  गोहिल ने इन सभी जानकारियों को लेकर पीएम मोदी से जवाब मांगा है.
 
 
क्या है पूरा मामला?
बता दें कि इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आरटीआई के जरिए प्रधानमंत्री का शैक्षणिक ब्यौरा मांगा था. जिसके बाद पीएम की साक्षरता को लेकर करीब 70 आरटीआई डाले जा चुके थे, लेकिन तब तक यूनिवर्सिटी इसका जवाब देने से मना करती रही. लेकिन सीआईसी के पूछने के बाद यूनिवर्सिटी ने उनकी शैक्षिकता को लेकर दस्तावेज सांक्षा किए थे. जिसमें यह बताया गया था कि उन्होंने एम. ए फर्स्ट डिवीजन से पास किया है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App