पटना. देशभर में धार्मिक स्थलों में महिलाओं के प्रवेश को लेकर बहस छिड़ी हुई है. ऐसे में इस मुद्दे ने राजनीतिक तूल भी पकड़ लिया है. इस बीच बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बयान दिया है कि पूजा पाठ हो या नमाज, महिलाओं पर प्रतिबंध नहीं होना चाहिए.
 
बता दें इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने भी महिलाओं के प्रवेश पर रोक के चलते चिंता जताई है. कोर्ट ने कहा कि देश में महिलाओं और पुरुष में किसी भी तरह का भेदभाव किया जाना खतरनाक है. साथ ही परंपरा कानून से ऊपर नहीं है.
 
बता दें कि मुंबई में भूमाता ब्रिगेड के विरोध के बाद ही महिलाओं को शनि शिंगणापुर मंदिर में एंट्री दी गई है. लेकिन अब यह मुद्दा हाजी अली दरगाह तक भी पहुंच गया है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App