अजमेर. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रविवार को कहा कि भारतीय समाज में विभाजन और टकराव पैदा करने वाली ताकतों को हराने के लिए सामाजिक सद्भाव और एकता को और मजबूत बनाना जरूरी है. नकवी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चादर चढ़ाने के बाद कहा, “हम समाज में विभाजन और टकराव पैदा करने की साजिश में लगी ताकतों को समाज में सद्भाव और एकता की ताकत की मदद से ही हरा सकते हैं.” उन्होंने कहा, “इस ताकत ने हमेशा आतंकवाद की चुनौती को हराया है.” 
 
संसदीय कार्य और अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि सद्भाव और एकता ही भारत की सम्पन्नता की गारंटी हैं. नकवी ने इस मौके पर प्रधानमंत्री का एक संदेश भी पढ़ा. संदेश में मोदी ने भारत और विदेश में संत के अनुयायियों का अभिवादन किया था.
 
मोदी ने अपने संदेश में कहा कि ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती हमारे देश की महान सूफी परंपराओं के एक अद्भुत उदाहरण थे. उन्होंने कहा, “गरीब नवाज मानवता की सेवा को सबसे बड़ी इबादत मानते थे. यह आज भी हमारे लिए एक प्रेरणास्रोत है.” प्रधानमंत्री ने विश्वभर में सभी की खुशियों की कामना भी की.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App