नई दिल्ली: मर्सिडीज हिट एंड रन मामले में नाबालिग आरोपी को जुवेनाइल होम में भेज दिया गया है. जानकारी के अनुसार उसके पिता मनोज अग्रवाल को 1 लाख रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी गई है.
 
बता दें कि इस नाबालिग आरोपी को पहले भी लापरावाही से गाड़ी चलाते देखा गया है. पुलिस का कहना है कि जिस समय यह हादसा हुआ उस समय आरोपी समेत 7 लोग कार में मौजूद थे.
 
आरोपी स्टूडेंट पर पहले जान लेने का आरोप था. बाद में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कल्पेबल होमीसाइड (गैरइरादतन हत्या) का मामला दर्ज किया गया है.
 
क्या हुआ था उस रात?
दरअसल 4 अप्रैल अप्रैल की रात करीब 8.30 बजे नाबालिग 7 लोगों के साथ अपनी मर्सिडीज को 100 किलो/घंटा की रफ्तार से भगा रहा था. उसकी इस लापरवाही का खामियाजा 32 साल के सिद्धार्थ शर्मा बिजनेस कंस्लटेंट को जान गंवाकर चुकाना पड़ा.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App