नई दिल्ली. शांति और सांप्रदायिक सौहार्द के पैगाम के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को एक चादर सौंपी जो वह अजमेर में सूफी संत ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर चढाएंगे. नकवी कल सुबह चादर चढाएंगे.
 
चादर के साथ प्रधानमंत्री ने अमन और एकता का संदेश दिया है जो कल नकवी दरगाह में पढ़ेंगे. ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती के 804वें उर्स के लिए हजारों जायरीन अजमेर पहुंच गए हैं. ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती के लिए दुनिया भर के मुसलमानों और हिन्दुओं में समान रूप से अकीदत है.
 
उद्धव ठाकरे ने भेजी चादर
हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के 804वें उर्स के मौके पर शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की ओर से अजमेर दरगाह चादर भेजी गई, जिसे युवा सेना अध्यक्ष राहुल कनल लेकर अजमेर पहुंचे और दरगाह में अपनी पार्टियों के सदस्यों के साथ मजारे ख्वाजा पर चादर पेश की है. चादर पेश कर आस्थाने से बाहर आए युवा सेना अध्यक्ष की दरगाह के खादिम आदिल चिश्ती ने दस्तारबंदी की और दरगाह का तबर्रूंक और फोटो भेंट किया. 
 
8 या 9 अप्रेल को होगी शरूआत
महान सूफी हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के उर्स की शुरूआत चांद दिखने के साथ 8 अप्रैल या 9 अप्रैल से शुरू हो जायेगी. इनकी अगुवाई ख्वाजा साहब के वंशज एवं सज्जादानशीन दीवान सैयद जैनुल आबेदीन अली खान परम्परागत रूप से करेंगे. इसके बाद ही उर्स की औपचारिक शुरूआत मानी जाऐगी.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App