रोहतक. योग गुरु बाबा रामदेव ने भारत माता की जय पर बयान दिया है. उनके इस बयान को एआईआईएम के प्रमुख असुदद्दीन के विवादित बयान का पटलवार माना जा रहा है.
 
रामदेव ने कहा है कि अगर कानून से हाथ बंधे नहीं होते तो न जाने कितने सर कटवां देते. उन्होंने आगे कहा कि हम कानून का सम्मान करते हैं नहीं तो लाखों सिर धड़ से अलग करवा देते. 
 
रोहतक की सद्भावना रैली में पहुंचे रामदेव ने कहा कि एक आदमी टोपी पहनकर कहता है कि चाहे जो कर लें, लेकिन भारत माता की जय नहीं बोलूंगा. उसे यह जान लेना चाहिए कि हम संविधान में आस्था रखते हैं. कानून का सम्मान करते हैं, नहीं तो अनगिनत धड़ों से सिर काट देते.
 
क्या कहा था ओवैसी ने
एक सभा को संबोदित करते हुए ओवैसी ने कहा थी कि वह भारत मां की जय नहीं बोलेंगे. उन्होंने कहा कि मैं भारत में रहूंगा पर भारत माता की जय नहीं बोलूंगा. क्योंकि यह हमारे संविधान में कहीं नहीं लिखा है कि भारत माता की जय बोलना जरूरी है. चाहे तो मेरे गले पर चाकू लगा दीजिए पर भारत माता की जय नहीं बोलूंगा. इसकी आज़ादी मुझे मेरा संविधान देता है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App