मुंबई. राधे मां एक बार फिर नए विवाद में घिर गई हैं. राधे मां पर फ्लाइट में त्रिशूल लेकर चलने पर उनके खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. मुंबई में अंधेरी कोर्ट के आदेश पर एयरपोर्ट पुलिस ने राधे मां पर मुकदमा दर्ज किया है. दरअसल, उन पर विमान में ‘त्रिशूल’ लेकर यात्रा करने का आरोप है.
 
राधे मां पिछले साल औरंगाबाद से मुंबई आने वाले एक विमान में ‘त्रिशूल’ लेकर गई थीं. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस महीने की शुरुआत में एक मजिस्ट्रेट अदालत ने पुलिस को शस्त्र अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया था, जिसके बाद मुंबई एयरपोर्ट पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया.
 
RTI कार्यकर्ता ने लगाया आरोप 
आरटीआई कार्यकर्ता असद पटेल ने आरोप लगाया था कि अगस्त 2015 में एक विमान में सुखविंदर कौर उर्फ राधे मां त्रिशूल लेकर गई थीं. असद पटेल ने एक एफआईआर दर्ज करने की मांग करते हुए अदालत का दरवाजा खटखटाया था.
 
पहले भी लग चुके हैं आरोप
  • राधे मां पर यह मामला पहला नहीं है. उन पर पहले भी कई बार आरोप लग चुके हैं. मुंबई के ही बोरीवेली इलाके में एक महिला ने राधे मां सहित अपने पति तथा ससुरालजनों पर दहेज के लिए परेशान करने का आरोप लगाया था. केस दर्ज कराने वाली महिला का आरोप है कि शादी के वक्त उसके पेरेंट्स ने करोड़ों रुपए की ज्वैलरी दी थी. लेकिन राधे मां ने उसके सास-ससुर से कहा कि वे और दहेज लाएं.
  • इसके अलावा दूसरा मामला मुंबई की ही एक वकील फाल्गुनी ब्रह्मभट्ट ने उन पर धर्म के नाम पर लोगों से धोखाधड़ी करने और अश्लीलता फैलाने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया था. राधे मां गत वर्ष उस समय भी चर्चा में आई थी जब उनकी मिनी स्कर्ट पहने कई फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी.
  • हिमाचल के कांगड़ा-चंबा जिले की सीमा पर बने हटली के श्रीराम मंदिर के महंत दास का दावा है कि राधे मां का असली नाम ‘बबू देवा’ है. उन्होंने राधे मां को अपने गुरु रामाधीन दास परमहंस की मौत का जिम्मेदार बताया है. उन्होंने आरोप लगाया कि राधे मां उनके गुरु के आश्रम की प्रॉपर्टी हड़पना चाहती हैं. 
  • मुंबई के कांदीवली पुलिस स्टेशन में एक शिकायत आई थी. इसमें राधे मां और उनके सहयोगियों पर गुजरात के कच्छ के सात किसानों के परिवार से 1.5 करोड़ रुपए लेने का आरोप लगा था. शिकायत के मुताबिक, जब परिवार को यह पता चला कि उन्हें पैसे वापस नहीं मिलने वाले तो चारों ने सुसाइड कर लिया.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App