नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी में देशद्रोही के नारे लगाने के मामले में जेएनयू जांच कमेटी ने रिपोर्ट सौंपी है. इस रिपोर्ट में उमर खालिद और अनिर्बन भट्टाचार्य समेत 21 छात्रों को दोषी माना  गया है. जानकारी के अनुसार यूनिवर्सिटी प्रशासन ने दोषी छात्रों को कारण बताओ नोटिस भेजा है.
 
स्पेशल पुलिस टीम पहुंची जेएनयू
इस बीच दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम जेएनयू परिसर पहुंची है. 9 फरवरी को कैंपस में लगे देश विरोधी नारेबाजी की घटना की जांच के लिए टीम जेएनयू पहुंची. 
 
बता दें कि जेएनयू में 9 फरवरी को अफजल गुरू की फांसी के विरोध में कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसमें देश विरोधी नारे लगाए गए थे. उसके बाद जारी हुए वीडियो में नकाब लगाए कुछ लोगों के साथ उमर और अनिर्बन देश विरोधी नारे लगाते देखे गए थे.
 
उमर और अनिर्बन के साथ ही तीन और छात्रों रामा नागा, अनंत प्रकाश और आशुतोष पर भी देश विरोधी नारेबाजी का आरोप है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App