नई दिल्ली. आर्ट ऑफ लिविंग संस्था के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने रविवार को विश्व महोत्सव के आखिरी दिन कहा कि पार्टियों को भारत की प्रतिष्ठा के लिए आयोजित कार्यक्रमों से अपनी राजनीति को दूर रखना चाहिए.
 
रविशंकर ने कहा कि  ‘हमें थोड़ी मेच्योरिटी की जरूरत है. मैं इसकी परवाह नहीं करता लेकिन मैं सभी राजनैतिक दलों से अनुरोध करता हूं कि जब भी इतना भव्य कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा हो तो दलगत राजनीति को दरकिनार करना चाहिए.’ श्री श्री ने कहा, ‘आपको साथ आना चाहिए ताकि विश्व मंच पर भारत की प्रतिष्ठा बढ़े. साथ ही दुनियाभर के लोग इस आयोजन से आश्चएर्यचकित हैं. हमें ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री से पत्र मिला है जिसमें उन्होंने हमसे वहां कार्यक्रम आयोजित करने को कहा.’
 
पांच करोड़ के जुर्माने पर दिया जवाब
एनजीटी द्वारा संस्था पर विश्व महोत्सव के कार्यक्रम से पहले लगाए गए पांच करोड़ के जुर्माने पर उन्होंने कहा कि एनजीटी ने साफ कर दिया है कि यह जुर्माना नहीं था बल्कि उस इलाके को नया जीवन प्रदान करने के लिए मुआवजा है. 
 
तीन दिवसीय विश्व सांस्कृतिक महोत्सव के समापन पर रविवार को उन्होंने कहा कि कोई भी स्टेडियम इतने सारे कलाकारों और लोगों को समाहित करने में सक्षम नहीं होता.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App