राउरकेला. ओडिशा के सुंदरगढ़ जिले के राउरकेला से प्रतिबंधित संगठन इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) के चार संदिग्ध आतंकियों को मंगलवार देर रात को गिरफ्तार किया गया. यह गिरफ्तारी राउरकेला के कुरैशी मोहल्ला से एसओजी (विशेष अभियान समूह), ओडिशा पुलिस, आइबी और तेलंगाना (हैदराबाद) पुलिस के संयुक्त ऑपरेशन के तहत की गई. जिसके बाद सभी संदिग्धों से पुलिस की पूछताछ जारी है.
 
इन चारों ने राउरकेला के कुरैशी मोहल्ले में किराए पर एक फ्लैट लिया हुआ था. आतंकियों की गिरफ्तारी से पहले पुलिस और आतंकियों के बीच करीब तीन घंटे तक फायरिंग भी हुई थी. लेकिन राहत की बात यह रही कि इसमें किसी को चोट नहीं आई. इन चारों की गिरफ्तारी से पहले मुठभेड रिहायशी इलाके में हुई.
 
NIA की वॉन्टेड लिस्ट में भी नाम
पुलिस के मुताबिक ये चारों सिमी के लिए मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश और उत्तर प्रदेश में काम कर रहे थे और चारों राउरकेला में अपनी पहचान छिपाकर रह रहे थे. आरोपियों की पहचान शेख महबूब उर्फ गुड्डू उर्फ मलिक, अमजद उर्फ दाऊद, मोहम्मत असलम उर्फ बिलाल और जाकिर हुसैन उर्फ सादिक के रूप में हुई है. पुलिस ने बताया कि ये सभी राउरकेला में डकैती करके ये अपने ऑपरेशनों को अंजाम देते थे. इसके अलावा चारों मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं और एनआईए की वॉन्टेड लिस्ट में भी हैं.
 
भारी मात्रा में हथियार बरामद
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, पूछताछ के दौरान इनसे अहम जानकारी मिली है. हालांकि अभी तक इसका खुलासा नहीं हो पाया है. इसके अलावा चारों आतंकियों के पास से 5 गन और गोला-बारूद बरामद किया गया है. इसके अलावा इंटेलीजेंस ब्यूरो के डायरेक्टर अरुण सारंगी ने बताया कि चारों ने मिलकर एक बैंक भी लूटा था.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App