नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्वास नई मुसीबत में घिर सकते हैं. दिल्ली महिला आयोग के पास एक महिला ने शिकायत भेजी है कि कुमार विश्वास से अवैध संबंध के नाम पर उसे बदनाम किया जा रहा है. महिला की शिकायत पर दिल्ली महिला आय़ोग ने कुमार विश्वास को नोटिस भेजकर कल तक जवाब मांगा है. महिला आयोग ने कहा है कि कुमार विश्वास को इन आऱोपों पर सामने आकर सफाई देनी चाहिए.
 
महिला ने दिल्ली के सीएम केजरीवाल से भी शिकायत की है. महिला का कहना है कि वो 2014 के लोकसभा चुनाव में कुमार विश्वास का चुनाव प्रचार करने अमेठी गई थी. इसी को लेकर कुमार विश्वास की पत्नी और सोशल मीडिया पर अवैध संबंधों की अफवाह फैलाई जा रही है. यह महिला आम आदमी पार्टी की कार्यकर्ता है उसके मुताबिक इन आरोपों के बाद उसका परिवार उजड़ने की कगार पर है. पति ने उसे घर से निकाल दिया है.
 
कुमार विश्वास का पक्ष
इन आरोपों पर कुमार विश्वास के मीडिया इंचार्ज की प्रतिक्रिया नहीं आई है. उन्होंने लिखा है-  नोटिस में कुमार विश्वास से संबंध का जिक्र नहीं है. महिला के मुताबिक कुछ लोग उसे बदनाम कर रहे हैं. वो कार्रवाई की मांग कर रही है. इसे कोट करते हुए कुमार विश्वास ने लिखा है- लेकिन ‘MODIA’ को सत्य से क्या मतलब?
विश्वास के पीए प्रबुद्ध का कहना है कि कुमार विश्वास अभी अपने गांव गए हैं- उनसे संपर्क होते ही जवाब दिया जाएगा. शिकायतकर्ता महिला ने बताया कि वह अरविंद केजरीवाल द्वारा वर्ष 2014 में दिल्ली के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के फैसले से बेहद प्रभावित हुई थी और आम आदमी पार्टी से जुड़ गई. गत लोकसभा चुनाव के दौरान कनॉट प्लेस स्थित आप कार्यालय में उससे कहा गया कि वह चुनाव प्रचार के लिए अमेठी जाए.
 
वह अपने खर्च से अमेठी गई. उसके दो बच्चे हैं, लेकिन उसने पार्टी के लिए अपने बच्चों को पति के पास छोड़ दिया. उसने बताया कि वह पांच दिन तक अमेठी में रही और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे आप प्रत्याशी कुमार विश्वास का प्रचार किया. महिला का कहना है कि जब कुमार की पत्नी ने उसके बारे में दुष्प्रचार शुरू किया और सोशल मीडिया पर उसे बदनाम करने की कोशिश हुई, तब वह अपने पति और एक सहेली के साथ वसुंधरा (गाजियाबाद) स्थित कुमार विश्वास के घर गई और उनसे आग्रह किया कि वह इस मामले में मीडिया के सामने आकर सफाई दें.
 
महिला ने बताया कि विश्वास ने ऐसा करने से साफ इंकार कर दिया. उसने अपनी शिकायत दिल्ली पुलिस के उपायुक्त को भी भेजी, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से भी शिकायत की लेकिन कहीं सुनवाई नहीं होने के बाद उसने महिला आयोग का दरवाजा खटखटाया है. सामाजिक कार्यकर्ता आभा सिंह ने कहा है, ”कुमार विश्वास की पार्टी की दिल्ली में सरकार है. यदि महिला ने महिला आयोग में शिकायत की है तो इसकी जांच होनी चाहिए. अगर जांच में आरोप सही पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ केस दर्ज होना चाहि

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App