लखनऊ. अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त गजल उस्ताद गुलाम अली रविवार रात लखनऊ महोत्सव में परफॉर्म करने जा रहे हैं. अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं. गुलाम अली शनिवार देर शाम उत्तर प्रदेश पहुंचे. वह यहां चार महीनों बाद आए हैं.
 
सुरक्षा के व्यापक इंतजाम
अधिकारियों ने कहा कि दक्षिण-पंथी समूहों के भारत में पाकिस्तानी कलाकारों की प्रस्तुतियों के विरोध के मद्देनजर इस कार्यक्रम को लेकर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं. अधिकारियों को आशंका है कि अराजक तत्व इस कार्यक्रम में खलल डाल सकते हैं. अधिकारी ने आगे कहा कि शिवसेना के प्रदेश अध्यक्ष बलदेव सिंह ने इस कार्यक्रम में खलल डालने की धमकी दी थी, उन्हें पुलिस निगरानी में रखा गया है और कार्यक्रम खत्म होने तक नजरबंद रहेंगे. 
 
गुलाम अली ने क्या कहा?
गुलाम अली ने यहां पहुंचने के बाद कहा था कि राजनीति को संगीत व कला में घसीटना दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने अफसोस जताया कि धमकियों की वजह से उनका मुंबई में होने वाला संगीत कार्यक्रम रद्द कर दिया गया था. उन्होंने कहा कि वह लखनऊ में परफॉर्म करने की बाबत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की गुजारिश को ठुकरा नहीं पाए.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App