लखनऊ. हमेशा अपने बयानों की वजह से विवादों में रहने वाले उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री आजम खान फिर एक बार सुर्खीयों में हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पाकिस्तान दौरे को लेकर गुप्त दावा किया है. उन्‍होंने कहा,‍ ‘पाकि‍स्‍तान दौरे पर पीएम ने देश के मोस्‍ट वॉन्टेड अपराधी दाऊद इब्राहि‍म से मुलाकात की थी. बादशाह (मोदी) अगर कहें तो सबूत के तौर पर फोटोग्राफ भी दि‍खा सकता हूं. यही नहीं, नवाज शरीफ की मां से मुलाकात के दौरान अडानी और जि‍दंल भी साथ में थे.’ 
 
केंद्र सरकार ने क्या कहा?
आजम के बयान पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने कहा, ‘आजम ने कुछ बयान दिए गए हैं कि प्रधानमंत्री ने लाहौर में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के आवास पर दाऊद इब्राहिम से मुलाकात की थी. यह निराधार, बेबुनियाद और गलत है.’ बीजेपी ने जहां आजम को आड़े हाथ लिया, वहीं कांग्रेस प्रवक्ता ने इस आरोप को अहमियत न देते हुए कहा कि इस पर यकीन नहीं किया जा सकता.
 
‘डील वाली सरकार’
आजम ने केंद्र सराकर को डील वाली सरकार बताते हुए कहा कि वाराणसी तो क्योटो नहीं बन पाया, लेकिन जापान के पीएम इसी नाम पर हजार करोड़ रुपए की डील करके चले गए. 
 
‘पाक के पीएम को पश्मीना शॉल भेजते हैं पीएम’
आजम ने यह भी कहा, हमारे पीएम पाक के पीएम को पश्मीना शॉल और मलीहाबादी आम भेजते हैं तो वहां से सीक कबाब आता है. इसके भी मेरे पास सबूत हैं.
 
‘बीजेपी के राज्यों को मिला स्मार्ट सिटी’
स्मार्ट सिटी योजना के बारे में आजम ने कहा कि पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और बिहार को मोदी सरकार ने इस योजना में इसलिए शामिल नहीं किया, क्योंकि इन राज्यों में बीजेपी की सरकार नहीं है.
 
‘यूपी में हार मान चुकी है बीजेपी’
कैबिनेट मंत्री ने कहा कि नगर विकास का बजट केंद्र सरकार ने 40 फीसदी कम कर दिया है. बीजेपी पहले ही पराजय मान चुकी है, इसीलिए बजट रोक दिए गए हैं. बीजेपी को विधानसभा चुनाव लडऩे वाले लोग नहीं मिल रहे हैं. कांग्रेस का यूपी में कुछ बचा नहीं है. बसपा का भी हाल पिछले चुनाव जैसा होगा.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App