नई दिल्ली. इस साल गणतंत्र दिवस की परेड में फ्रांस की सैन्य टुकड़ी ने हिस्सा लिया. यह पहली बार होगा जब गणतंत्र दिवस परेड में कोई विदेशी सैन्य टुकड़ी हिस्सा ले रही है. रक्षा मंत्रालय ने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है जब राजपथ पर गणतंत्र दिवस के समारोह में किसी विदेशी सेना का दल हिस्सा लिया. 
 
 
फ्रांस सेना की 7वीं आर्मर्ड ब्रिगेड की 35वीं इन्फेंट्री रेजीमेंट के 56 जवानों की जो टुकड़ी गणतंत्र दिवस पर भाग ले रही है. 
 
 
फ्रांस्वा ओलांद हैं मुख्य अतिथि 
फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि होंगे. गणतंत्र दिवस समारोह के इतिहास में पहली बार फ्रांस की सेना का 76 सदस्यीय दल भी राजपथ पर भारत के राष्ट्रपति को सलामी देगा. इस दल में 48 संगीतकारों का दस्ता भी शामिल होगा.
 
 
परेड में होगा डॉग स्कॉवड दस्ता 
परेड में 26 साल के बाद सेना के डॉग स्कॉवड के सदस्य भी अपने हैंडलर्स के साथ भाग लेंगे. परंपराओं के अनुसार, राजपथ पर बीएसएफ के ऊंट दस्ते के सजे-धजे रंग-बिरंगे 56 ऊंटों का दस्ता डिप्टी कमांडेंट कुलदीप जे. चौधरी के नेतृत्व में मार्च करेगा.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App