नई दिल्ली. बीजेपी के वरिष्ण नेता राम माधव ने असहिष्णुता के मुद्दे पर अभिनेता आमिर खान के बयान की निंदा करते हुए कहा है कि देश की प्रतिष्ठा के बारे में वे केवल ऑटो रिक्शा चालकों को ही नहीं, बल्कि अपनी पत्नी को भी ज्ञान दें.

विजयवर्गीय का फरमान- दंगलमें मंगल करना है, ध्यान रखना

राम माधव ने आमिर खान का नाम लिए बिना कहा कि ऐसे नहीं चलेगा कि ऑटो वाले देश की गरिमा को बचाए रखने की सीख दी जाएगी और लोग घर जाकर आप अपनी पत्नी को ही नहीं समझा पाएंगे.

दिल्ली यूनिवर्सिटी के एसजीबीटी खालसा कॉलेज में छात्रों को संबोधित करते हुए बीजेपी नेता ने कई मुद्दों पर अपने विचार रखे. उन्होंने अवॉर्ड वापसी को देश की अस्मिता से जोड़ते हुए कहा कि सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि भविष्य में पुरस्कार वापसी की जरूरत नहीं हो.

छात्रों को संबोधित करते हुए माधव ने कहा, ‘हम देश की सुरक्षा के लिए समर्पित हैं. हम अपने पड़ोसियों के साथ अच्छे रिश्ते चाहते हैं. लेकिन देश की सीमाओं की सुरक्षा और उसके आत्मसम्मान पर कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद से देश की छवि दुनियाभर में सुधरी है. माधव ने आगे कहा कि मोदी सरकार देश में गरीबी के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ रही है. हम इस समस्या को समाप्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

 

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App