नई दिल्ली. नर्सरी एडमिशन पर बड़ा फैसला लेते हुए दिल्ली सरकार ने एडमिशन के लिए सिर्फ गरीब कोटा रखने का फैसला लिया है. इसी के साथ नर्सरी एडिमशन में 25 फीसदी सीटें आर्थिक पिछड़ा वर्ग के लिए रिजर्व रहेंगी जबकि 75 फीसदी सीटें आम लोगों के लिए उपलब्ध रहेंगी.
 
नर्सरी एडमिशन पर दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा,”मैनेजमेंट कोटा सबसे बड़ा घोटाला है. स्कूल नहीं माने तो सरकार स्कूलों का अधिग्रहण  करेगी.”
 
केजरीवाल ने कहा कि ये अहम फैसला स्कूलों में दाखिला प्रक्रिया को पारदर्शी और लोगों के फायदे के लिए किया गया है. सीएम ने बताया कि स्कूलों में केवल गरीब बच्चों के लिए 25 फीसदी कोटा होगा. बाकी सभी सीटें आम लोगों के लिए उपलब्ध रहेंगी.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App