नोएडा. कठुआ और उन्नाव गैंगरेप जैसी घटनाओं पर देशभर में आक्रोश अभी थमा नहीं था कि ग्रेटर नोएडा में नाबालिग से गैंगरेप का मामला फिर सामने आया है. जहां 11वीं क्लास की छात्रा को कार में तीन लोगों ने बंधक बना कर गैंगरेप किया. हैरान करने वाली बात ये है कि इन आरोपियों में से एक पीड़िता रिश्तेदार और एक क्लासमेट शामिल है. तीनों आरोपियों ने नाबालिग लड़की को शहर की सड़कों पर 11 घंटे तक घुमाते रहे और रात 1.30 बजे पार्क के पास फेंक गए.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आरोप है कि पुलिस तीन दिन तक मामले को दबाए रखा. तीन आरोपियों ने 11वीं कक्षा की छात्रा के साथ चलती कार में गैंगरेप किया और पीड़िता को कई घंटे सड़क पर घुमाने के बाद नॉलेज पार्क में फैंक कर फरार हो गए. बतौर मीडिया लड़की 18 अप्रैल को स्कूल बस छुट जाने की वजह से घर पैदल लौट रही थी. इस दौरान पीड़िता का दूर का रिश्तेदार नवीन और क्लासमेट अंकित और एक युवक घर कार लेकर बीच रस्ते में मिले और छात्रा को घर छोड़ने के लिए कहा. पीड़िता को बहला फुसला कर कार में बैठा लिया.

वहीं छात्रा जब स्कूल से घर नहीं लौटी तो परिवार वालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई. जिसके बाद पुलिस ने छात्रा की तलाश शुरू की और छात्रा 18-19 अप्रैल की रात करीब 2 बजे नॉलेज पार्क स्थित गलगोटिया कॉलेज के पास सुनसान सड़क पर मिली. पुलिस ने बताया कि आरोपी छात्रा को रात 1.30 बजे करीब सड़क पर फेंक गए थे. इस मामले को पुलिस ने पॉक्सो एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है.

हरियाणा में एक लड़की ने तीन युवकों को सौंपी अपनी नाबालिग सहेली, गैंगरेप

रैली में फायर करने से रोकने पर भड़की ब्राह्मण सभा, दलित SHO को मांगनी पड़ी माफी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App