नई दिल्ली. आतंकी संगठन ISIS में शामिल होने जा रहे नागपुर एयरपोर्ट से गिरफ्तार किए गए तीनों लड़कों ने कुछ चौंकाने वाले खुलासे किये हैं. लड़कों ने पूछताछ में बताया है कि कश्मीर की अलगाववादी नेता असिया अंद्राबी ने उन्हें मदद देने के लिए श्रीनगर बुलाया था. हालांकि असिया ने आरोपों से इनकार किया है. 
 
क्या-क्या बताया लड़कों ने 
बता दें कि ये तीनों लड़के कजिन हैं.  इनके नाम मोहम्मद अब्दुल्ला, सैयद उमर फारुख और माज हसन फारुख हैं और तीनों की ही उम्र 20 साल के आसपास है. एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक, लड़कों से पूछताछ के दौरान यह सामने आया कि उनके संबंध पाकिस्तान को सपोर्ट करने वाले कश्मीरी संगठन दुख्तरान-ए-मिल्लत की लीडर असिया अंद्राबी से हैं. 
 
लड़कों ने बताया कि असिया ने उनसे कहा था कि वे श्रीनगर आ जाएं और फिर उन्हें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) भेज दिया जाएगा. इसके बाद वे आसानी से मिडल ईस्ट के किसी देश में जाकर आईएस में शामिल हो सकते हैं. इन लड़कों को महाराष्ट्र एटीएस ने गिरफ्तार किया था. ये तीनों ही तेलंगाना के रहने वाले हैं और बैन किए जा चुके ऑर्गेनाइजेशन सिमी के मेंबर हैं. पुलिस को शक है कि ये तीनों आईएस से प्रभावित हैं और इसमें शामिल होने के लिए जा रहे थे. 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App