नई दिल्ली. मंगलवार को दिल्ली में हुए विमान हादसे में शहीद जवानों और पायलट को सफदरजंग एयरपोर्ट पर श्रद्धांजलि दी गई. श्रद्धांजलि  के दौरान शहीद की बेटी ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से  सवाल पूछा कि मेरे पिता को खराब विमान में बैठाने की क्या जरूरत थी ?

बीएसएफ के एक शहीद अधिकारी की बेटी ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह से ये भी कहा कि आखिर हमेशा एक शहीद का परिवार ही क्यों रोता है. इस लापारवाही का जिम्मेदार कौन हैं.

उधर शहीद पायलट की पत्नी ने भी राजनाथ सिंह से पूछा कि पायलटों की जान कब तक जाती रहेगी ? बीएसएफ को पुराना विमान क्‍यों दिया गया ? गृह मंत्री ने इस सवालों को ध्यान से सुनकर पीड़ित परिवार को संतावना दी.

श्रद्धांजलि समारोह के दौरान सफदरजंग एयरपोर्ट पर बीएसएफ के तमाम आला अधिकारी और शहीद जवानों के परिजन उपस्थित थे. इस मौके पर दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग ने भी बीएसएफ के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

20 साल पुराना था विमान

बता दें कि दिल्ली से तकनीशियनों को लेकर रांची जा रहा बीएसएफ का 20 साल पुराना विमान मंगलवार को उड़ान भरने के कुछ ही समय बाद इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास द्वारका में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था.

इस हादसें में बीएसएफ के जवानों और पायलट सहित सभी 10 लोगों की मौत हो गई थी. मृतकों में बीएसएफ के तीन अधिकारी शामिल हैं. बीएसएफ के महानिदेशक ने कहा कि दुर्घटना में मारे गए सभी कर्मियों के परिवारों को सरकार की ओर से आवंटित अन्य धनराशि के अलावा 20-20 लाख रुपये अनुग्रह राशि के तौर पर दिए जाएंगे.

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App