नई दिल्ली. 26 नवंबर से शुरू हुए संसद के शीतकालीन सत्र का आज आखिरी दिन है. इस सत्र का अधिकतर समय हंगामे की भेंट चढ़ा है, जिसके चलते जीएसटी सहित कई अहम बिल इस बार भी अटक गए हैं.

संसद में इस बार विपक्ष असहिष्णुता, नेशनल हेराल्ड, और बाद में सीबीआई के दुरूपयोग वाले आरोपों के साथ सरकार पर निशाना साधता रहा. इस मामलों पर हंगामों के चलते इस बार भी संसद में जीएसटी बिल पास नहीं हो सका. बता दें कि इस बिल को केंद्र सरकार पूरे देश में हर हाल में एक अप्रेल से लागू कराना चाहती है.

मंगलवार को जुवेनाइल जस्टिस एक्ट पास

मंगलवार को जुवेनाइल जस्टिस एक्ट को पास कर राज्यसभा ने बलात्कार सहित संगीन अपराधों के मामले में कुछ शर्तों के साथ किशोर माने जाने की आयु को 18 से घटाकर 16 साल कर दी है. इस विधेयक को राज्यसभा ने ध्वनिमत से पारित किया था.

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App