पटना. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के ऑफिस में सीबीआई की छापेमारी पर आश्चर्य प्रकट करते हुए कहा कि ‘सहसा यकीन नहीं होता और यह घोर आश्चर्य का विषय है.’

नीतीश ने पटना में कहा कि किसी भी व्यक्ति के बारे में कोई आरोप हो, तो जांच-पड़ताल होनी चाहिए, लेकिन वगैर किसी आरोप और पूर्व सूचना के मुख्यमंत्री कार्यालय में सीबीआई टीम का घुसना घोर आश्चर्य का विषय है. 

नीतीश ने कहा कि जो भी मामले हैं, क्या वे मामले अभी के पदधारक से संबंधित है? अगर पूर्व के मामले हैं तब भी मुख्यमंत्री कार्यालय में सीबीआई का घुसना और भी विचित्र बात है. जांच करने के तो बहुत सारे तरीके हो सकते हैं. उन्होंने कहा ऐसी कार्यवाही करना किसी भी राज्य के अधिकारों पर हमला करना है.

नीतीश ने कहा कि अब तक केंद्र और राज्य के बीच जितनी मर्यादाएं रही है वो अब भंग हो रही है, इस बात पर मुझे यकिन नहीं हो रहा है. इसका संदेश लोकतांत्रिक एवं संघीय व्यवस्था के लिए काफी खतरनाक है इसलिए इन सब पहलुओं पर गौर किया जाना चाहिए. ये एक ऐसी विचित्र स्थिति है कि इसका तो कोई समर्थन कर ही नहीं सकता. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App