नई दिल्ली. कांग्रेस नेता कुमारी शैलजा ने गुजरात मॉडल पर अटैक करते हुए संसद सत्र के दौरान खुलासा किया है कि गुजरात के द्वारका मंदिर के पुजारी ने उनकी जाति पूछी थी. शैलजा ने बताया कि केंद्रीय मंत्री रहने के दौरान वह दर्शन के लिए द्वारका गई थीं, तभी उनसे जाति के बारे में सवाल किया गया.
 
उन्होंने कहा, ‘मैं भी एक दलित लेकिन हिन्दू हूं. मैं मंदिर जाना पसंद करती हूं. मैं द्वारका मंदिर गई थी, उस समय मैं कैबिनेट मंत्री थी. वहां के पुजारी ने मेरी जाति पूछी थी.’ उन्होंने कहा कि यह घटना गुजरात में हुई, इससे पता चलता है कि गुजरात मॉडल कैसा है और वहां दलितों के साथ क्या हो रहा है? शैलजा के इस बयान के बाद राज्यसभा में तीखी बहस हुई और संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि वह कई बार द्वारका गए हैं लेकिन उनसे कभी जाति नहीं पूछी गई. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App