सैन होजे. नरेंद्र मोदी के गूगल मुख्यालय के दौरे के दौरान कंपनी के सीईओ सुंदर पिचई ने इसकी घोषणा की. पीएम मोदी के संक्षिप्त भाषण से पहले पिचई ने डिजिटल साक्षरता को आगे बढ़ाने के लिए लोगों द्वारा अपनी भाषा में टाइप करने की महत्ता रेखांकित करते हुए घोषणा की कि अगले महीने गूगल भारत में लोगों के लिए यह संभव बनाएगी कि वे गुजराती सहित अन्य अलग-अलग भाषाओं में टाइप कर सकें.
 
पिचई ने कहा, भारत पहला ऐसा देश था, जहां क्रोम नंबर एक ब्राउजर बना. उन्होंने कहा, मैं भारत में पला-बढ़ा और टेक्नोलॉजी में बदलाव को देखा. पिचई ने यह भी बताया कि गूगल भारत में 100 रेलवे स्टेशनों पर वाईफाई सुविधा उपलब्ध कराएगी. अगले साल 400 और स्टेशनों पर ऐसी सुविधा दी जाएगी. 
 
अपने पुराने दिनों को याद करते हुए पिचई ने कहा कि वह ट्रेन से चेन्नई से खड़गपुर आते-जाते थे. पिचई ने कहा कि भारत में रोजाना ढाई करोड़ लोग रेलवे की सवारी करते हैं और वहां 7,500 स्टेशन हैं. पिचई ने पीएम मोदी को स्ट्रीट व्यू और गूगल अर्थ के नेवीगेशन, सुरक्षा और अन्य बातों की जानकारी दी. समीप के फेसबुक मुख्यालय से गूगल पहुंचने पर पीएण मोदी ने कहा, यह गूगल गुरु की यात्रा है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App