वॉशिंगटन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को भारतीय समयानुसार रात 1.10 मिनट पर व्हाइट हाउस पहुंच गए थे. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पत्नी मेलानिया ट्रंप के साथ पीएम मोदी का गर्मजोशी से स्वागत किया था. व्हाइट हाउस में दोनों नेताओं की प्रतिनिधिमंडल स्तर के साथ बातचीत हुई. मीटिंग में पीएम मोदी ने कहा है कि यह मेरा नहीं, सवा अरब भारतीयों का सम्मान है.
 
पीएम मोदी ने आगे कहा कि स्वागत के लिए मैं राष्ट्रपति ट्रंप का आभारी हूं और उनकी सोच काफी दूर की सोच सोचते हैं. पीएम मोदी ने कहा कि अमेरिका भारत का सच्चा मित्र है और ये दोनों देश मिलकर दुनिया के लिए बहुत कुछ कर सकते हैं. ट्रंप साल 2014 में जब भारत आए थे तो वहां की मीडिया ने उनसे मेरे बारे में बातें की थीं, तब उन्होंने मेरे बारे में उन्होंने कई बेहतरीन बातें की थीं, ये बात मेरे लिए हमेशा यादगार रहेगा.
 
 
पीएम मोदी को ‘सच्चा दोस्त’ बताने वाले डोनल्ड ट्रंप ने गर्मजोशी से स्वागत किया. इस दौरान ट्रंप की पत्नी और अमेरिका की फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप भी उनके साथ थीं. पीएम मोदी से पहली बार आमने-सामने मिल रहे ट्रंप ने कहा कि भारत को आर्थिक मोर्चे पर आगे ले जा रहे हैं. साथ ही कई अन्य तरीकों से बेहतर काम कर रहे हैं. मैं इसके लिए आपको बधाई देना चाहता हूं.
 
ट्रंप ने कहा कि पीएम मोदी का आना हमारे लिए सम्मान की बात है. नरेंद्र मोदी जैसे महान प्रधानमंत्री व्हाइट हाउस आए हैं. फिलहाल व्हाइट हाउस में दोनों नेताओं की प्रतिनिधिमंडल स्तर के साथ मीटिंग जारी है. थोड़ी देर बार दोनों साझा बयान जारी करेंगे.
 
दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय बातचीत शुरू हो गई है. ट्रंप और मोदी के बीच ये बातचीत 2 बजकर 40 मिनट तक चलेगी. द्विपक्षीय बातचीत में ट्रंप ने कहा कि अमेरिका जैसे सैन्य सामना और कोई देश नहीं बना सकता. सैन्य सामना खरीदने के लिए भारत का धन्यवाद.
 
 
व्हाइट हाउस में PM मोदी का कार्यक्रम
रात 1.40 बजे से 2.40 बजे ट्रंप-मोदी के बीच द्विपक्षीय बातचीत हुई
रात 2.40 बजे से 3 बजे ट्रंप-मोदी साझा बयान जारी किया. 
रात 3 बजे से 3.30 बजे अमेरिकी राष्ट्रपति ने मोदी को कॉकटेल रिसेप्शन दिया 
रात 3.30 बजे से 5.30 बजे मोदी को ट्रंप ने डिनर दिया 
रात 5.30 बजे विदेश मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई
सुबह 6.40 बजे मोदी वॉशिंगटन से रवाना होंगे 
 
 
दोनों नेताओं की मुलाकात से पहले अमेरिका ने हिज्बुल मुजाहिदीन का सरगना सैयद सलाउद्दीन को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर दिया है. पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद पर भारत की ये बहुत बड़ी जीत है.सलाउदीन को ग्लोबल आतंकी घोषित करने पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने बताया कि नोटिफिकेशन आ गया है, हम उस पर गौर करेंगे और देखेंगे कि क्या प्रावधान किए गए हैं. 
 
ट्रंप से मुलाकात से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स डब्ल्यू टिलरसन से मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद ही सैयद सलाउद्दीन अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कर दिया गया. अमेरिका इस मुलाकात को कितनी अहमियत दे रहा है ये इसी से जाहिर हो जाता है कि ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार किसी राष्ट्राध्यक्ष को व्हाइट हाउस बुलाया गया है. 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App