वॉशिगटन: पीएम मोदी ने रविवार को वॉशिंगटन में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए आतंकवाद का भी मुद्दा उठाया. पीएम मोदी ने कहा कि आज विश्व आतंकवाद से परेशान है, ये आतंकवाद मानव जाति के दुश्मन हैं.
 
विश्व के कई देश, जब भारत  आज से 20-25 साल पहले आतंकवाद की बात बताता था तो उनके गले नहीं उतरता था. विश्व के लोगों को लगता था ये तो आपके लॉ एंड ऑर्डर में प्रॉब्लम है. क्योंकि उन्होंने भुगता नहीं था, अनुभव नहीं किया था. आज विश्व में किसी को आतंकवाद को बताने की जरूरत नहीं है. टेरिस्टों ने समझा दिया. पीएम ने कहा कि हम समझाते थे तो समझ नहीं आता था.  
 
 
उन्होंने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि आप से मिलकर परिवार का आनंद मिलता है. आप लोगों के बीच में आकर मुझे नई ऊर्जा मिलती है. उन्होंने कहा कि अमेरिका के कार्यक्रम की  दुनिया में गूंज होती है. पीएम ने कहा कि आज भारत नई रफ्तार से आगे बढ़ रहा है. भारत के सक्षम लोगों से हमने सब्सिडी छोड़ने का आग्रह किया, बड़ी संख्या में लोगों ने अपनी सब्सिडी छोड़ी. इससे गरीबों का भला हुआ. 
 
 
 
पीएम मोदी ने कहा कि हमने बीड़ा उठाया है कि पांच करोड़ गरीब परिवारों में गैस चूल्हा उपलब्ध कराया जाए. मुझे गर्व हो रहा है कि अभी तक एक करोड़ परिवारों को गैस सिलेंडर उपलब्ध करा दिया गया है. पीएम मोदी ने कहा कि अब तक हमारी सरकार में एक भी दाग नहीं लगा है. भारतीय लोगों को भ्रष्टाचार से नफरत हो गई है. सरकार चलाने के तरिके में भी बदलाव आया है. तकनीक से शासन में पारदर्शिता लाने में कायमाबी मिल रही है. 
 
 
बता दें कि इससे पहले पीएम मोदी ने होटल विलार्ड इंटरकंटीनेंटल में अमेरिका की 21 दिग्गज कंपनियों के सीईओ के साथ बैठक की. उन्होंने कंपनियों को भारत में निवेश करने का न्यौता दिया है. राउंड टेबल पर पीएम ने कहा कि भारत का विकास दोनों देशों के लिए फायदा है. अमेरिकी कंपनियों के लिए काफी अवसर हैं. उन्होंने कहा कि इस वक्त पूरी दुनिया भारत की तरफ देख रही है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर