तवी: Tawi Election Results 2018 Winner MNF R LALZIRLIANA : आज पूर्वोतर राज्य मिजोरम  की किस्मत का फैसला हो गया है. राज्य में ज्यादातर  सीटों पर एमएनएफ की सरकार बन गई हैं. अगर बात करें  राज्य की तावी सीट की तो इस सीट पर भी एमएनफ ने जीत दर्ज कर ली है. इस पार्टी की तरफ से खड़े उम्मीदवार र. लालजीर्लिअना  ने 4 हजार 940 वोट प्राप्त किए हैं.  इन्होंने कांग्रेस की तरफ से खड़े उम्मीदवार रोसिअमंगीता को भी हरा  दिया है. अगर बीजेपी की बात करें तो यहां बीजेपी के तरफ से खड़े उम्मीदवार प्रोफ .ज .व् .हलुना को लालजीर्लिअना ने बहुत पीछे पछाड़ दिया है. 

इस बीच  लंबे इंतजार के बाद  बीजेपी ने भी अपना खाता  खोल  है लेकिन एमएनएफ के आगे कोई भी पार्टी टिकती नहीं दिख रही है. अब तक की वोटो की गिनती के बाद  पूरा यकीन होता जा रहा है की राज्य में इस बार एमएनएफ  सरकार बनाएगी. राज्य में 28 नवंबर को हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों  का इंतजार कुछ ही पलों में खत्म हो जाएगा. सभी  की धड़कने बहुत तेज हो गई है.  

इस बार राज्य में कांग्रेस अपना इतिहास  नहीं दोहरा पाएगी.  खास बात ये है कि  पिछले 10 साल से राज्य में कांग्रेस का शासन  था जो इस बड़ी जीत के बाद खत्म हो जाएगा. पूर्वोत्तर राज्य की 40 विधानसभा सीटों पर 28 नवंबर को चुनाव हो  हुआ  था. मिजोरम पूर्वोत्तर का एक मात्र ऐसा राज्य है, जहां कांग्रेस की सरकार है.

पिछले 10 साल से सत्ता पर काबिज कांग्रेस तीसरी बार सरकार बनाने के इरादे से उतर रही है. हालांकि पिछले विधानसभा चुनावों की तुलना में इस बार कांग्रेस के लिए मुश्किलें रही है. कांग्रेस के कई कद्दावर नेता चुनाव  से पहले बागी तेवर अपना चुनाव अपना चुके थे शायद यही वजह है कि मिरोरम में कांग्रेस को मुंह की खाना पड़ी.

गौरतलब है कि 2013 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 40 विधानसभा सीटों में से 34 पर जीत का परचम लहराया था. जबकि मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) पांच विधायकों के साथ मुख्य विपक्षी पार्टी थी. मिजोरम पीपुल्स कॉन्फ्रेंस की झोली में एक सीट आई थी. पांच बार राज्य सत्ता की बागडोर संभाल चुके कांग्रेस के दिग्गज नेता और मौजूदा मुख्यमंत्री लालथनहलवा को अपने बागी नेताओं के साथ-साथ मिजो नेशनल फ्रंट से कड़ी टक्कर मिल रही  है. यूं तो राज्य की सभी सीटों का अपना ही महत्व है. लेकिन वीआईपी उम्मीदवारों के कारण कुछ सीटें ऐसी है, जिनपर सभी पार्टियों की निगाहें टिकी हैं.

राजधानी आइजोल की तवी विधानसभा सीट को वीआईपी सीट माना जा रहा है. यह सीट कांग्रेस सरकार में गृहमंत्री रह चुके आर लालजिरलियाना की हैं. आर लालजिरलियाना ने कांग्रेस के टिकट पर साल 2008 और 2013 में जीत दर्ज की थी. पिछले विधानसभा चुनाव में 14566 मतदाताओं वाले तवी सीट से कांग्रेस की ओर से लालजिरलियाना ने 45.42 फीसदी वोट पाकर जीत हासिल की थी. जबकि 37.95 फीसदी वोट पाकर एमएनएफ के नेता ललमलसावमी दूसरे नंबर पर थे. आर लालजिरलियाना को कुल 5757 वोट मिले थे, जबकि एमएनएफ प्रत्याशी ललमलसावमी  को कुल 4810 वोट मिले थे. 

हालांकि इस बार लालजिरलियाना कांग्रेस छोड़ मिजो नेशनल फ्रंट का दामन थाम चुके हैं. मिजो नेशनल फ्रंट ने लालजिरलियाना को अपना प्रत्याशी बनाया है. उनका मुकाबला कांग्रेस के रोसिएमधेटा से हैं. जबकि भाजपा ने तवी विधानसभा सीट से प्रो. जे.वी. हलुना को अपना उम्मीदवार बनाया है. चुनाव विशेषज्ञों के अनुसार तवी में लालजिरलियाना और रेसिएमधेटा के बीच मुकाबला है. भाजपा उम्मीदवार हलुना मुकाबले को त्रिकोणीय बना सकते हैं.

मिजोरम विधानसभा चुनाव 2018 में तवी विधानसभा सीट के प्रत्याशियों की सूची
कांग्रेस- रोसिएमधेटा
भाजपा- प्रो. जे.वी. हलुना
एमएनएफ- आर लालजिरलियाना

मिजोरम विधानसभा चुनाव 2013 में तवी सीट का रिजल्ट
पार्टी                    प्रत्याशी                                वोट
कांग्रेस          आर लालजिरलियाना                  5757 
एमएनएफ     ललमलसावमी                           4810

Datia Constituency Madhya Pradesh Vidhan Sabha Election 2018: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में दतिया सीट पर भिड़ेंगे बीजेपी के नरोत्तम मिश्रा और कांग्रेस के राजेंद्र भारती, 2013 में यह था रिजल्ट

Rajasthan Assembly Election 2018: एक वोट से CM बनने से चूके सीपी जोशी ने क्या राजस्थान में सचिन पायलट और अशोक गहलोत के साथ कांग्रेस का भी कांड कर दिया ?

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App