नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली की हवा ज़हरीली हो चुकी है. सुप्रीम कोर्ट पहले ही कह चुका है कि दिल्ली को प्रदूषण से बचाने के लिए जो भी ज़रूरी होगा, वो किया जाएगा. ऑड-ईवन का प्रयोग दिल्ली की हवा साफ करने के मकसद से किया गया और अब सुप्रीम कोर्ट ने दिवाली पर पटाखे बेचने पर पाबंदी लगा दी है. दिल्ली-एनसीआर में पटाखे जलाने पर रोक नहीं है, सिर्फ पटाखे बेचने पर रोक है, वो भी 31 अक्टूबर तक.
 
पटाखा कारोबारी सदमे में हैं और चेतन भगत से लेकर त्रिपुरा के गवर्नर तथागत रॉय जैसे लोग इसे आस्था पर चोट बता रहे हैं. क्या पटाखों की बिक्री रोकने भर से दिल्ली-एनसीआर की हवा साफ होगी ? पटाखे चलाने पर रोक क्यों नहीं, सिर्फ बेचने पर ही रोक क्यों है, आज इसी मुद्दे पर होगी महाबहस.

 
(वीडियो में देखें पूरा शो)

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर