नई दिल्ली: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कुछ दिन पहले ही 2019 का टारगेट तय किया है. टारगेट लोकसभा चुनाव में 360 से ज्यादा सीटें जीतने का है. बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह की बैठक भी हो रही है, जिसमें मिशन 360 प्लस की रूपरेखा तय होने की उम्मीद है.
 
इस बैठक से ठीक पहले सोशल मीडिया पर एक पोस्टर ने राजनीतिक तापमान बढ़ा दिया था. पोस्टर में मायावती के साथ विपक्ष के तमाम नेताओं के बीच अखिलेश यादव की फोटो लगी थी और लिखा था- सामाजिक न्याय के समर्थन में विपक्ष एक हो. विपक्ष की एकजुटता के इस पोस्टर को मायावती ने फर्जी बताकर माहौल ठंडा करने की कोशिश की, लेकिन इस पोस्टर पर प्रतिक्रियाओं ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं.
 
ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मैजिक और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति ही है, जिसने कांग्रेस समेत सभी बीजेपी विरोधी दलों के सामने वजूद का संकट खड़ा कर दिया है. विपक्ष का संकट 2014 के चुनाव के बाद शुरू हुआ. कुछ नहीं सूझा तो बिहार में आरजेडी, जेडीयू और कांग्रेस ने बिना विचार मिले महागठबंधन बना लिया.
 
महागठबंधन की कामयाबी को लालू यादव पूरे देश में मोदी-विरोध का हिट फॉर्मूला मान चुके थे, लेकिन तभी बिहार में नीतीश कुमार ने लालू और कांग्रेस का हाथ झटका और मोदी के मुरीद बन गए. विपक्षी दलों के बिखराव और कमजोरी का फायदा उठाते हुए अब बीजेपी ने 2019 का टारगेट सेट कर दिया है.
 
बीजेपी 2019 के लोकसभा चुनाव में 360 से ज्यादा सीटें जीतने के लिए अभी से तैयारी में जुट गई है, जबकि विपक्षी दल अभी महागठबंधन का हवाई किला बनाने में ही व्यस्त हैं. जेडीयू में अलग-थलग हो चुके शरद यादव ने विपक्षी दलों का मजमा लगाने की कोशिश की थी. 27 अगस्त को लालू यादव पटना में विपक्षी दलों की महारैली करने जा रहे हैं.
 
उससे पहले विपक्ष की एकजुटता का एक ख्याली पोस्टर मार्केट में आया, जिसमें मायावती और अखिलेश यादव की फोटो एक साथ लगी थी. ये पोस्टर बीएसपी यूपी 2017 नाम के ट्विटर हैंडल से जारी हुआ था. विपक्ष की एकता का ये बड़ा नमूना जैसा था, जिसे मायावती ने फरेब करार देने में देरी नहीं की. मायावती ने लालू यादव की रैली में जाने से भी इनकार कर दिया.
 
हालांकि विपक्ष को अब भी लगता है कि ये फरेबी पोस्टर हकीकत में बदल सकता है. फिलहाल विपक्ष की एकजुटता सवालों में घिरी है और बीजेपी अपने मिशन 360 प्लस को अंजाम देने की तैयारियों में जुट गई है. प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह की आज बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक हो रही है, जिसमें मोदी और शाह ये मंत्र देने वाले हैं कि 360 से ज्यादा सीटें जीतने का मुश्किल टारगेट भी आसानी से कैसे हासिल किया जा सकता है.
 
क्या मोदी और अमित शाह का मिशन 360 प्लस पूरा होगा ? मोदी का मुकाबला करने के लिए विपक्ष एकजुट होगा या आपसी टकराव में बिखर जाएगा, आज इन्हीं सवालों पर होगी महाबहस.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App