Monday, August 15, 2022

गर्मी की छुट्टी ख़त्म, बढ़ रहे कोरोना मामले, स्कूल खुलने से बढ़ी चिंता

नई दिल्ली, गर्मियों की छुट्टियां अब ख़त्म होने ही वाली हैं. जहां गर्मियों की छुट्टियों के ख़त्म होने के साथ-साथ दूसरी ओर कोरोना भी तेजी से पैर पसार रहा है. ऐसे में चिंता है तो अभिभावकों और स्कूली छात्रों को कि कैसे स्कूल जाया जाए और कोरोना से भी बचा जाए. आइए नज़र डालते हैं कि देश के तमाम राज्य बढ़ रहे कोरोना मामलों के लिए कितने तैयार हैं.

कोरोना आने के बाद

दिल्ली-एनसीआर में गर्मी की छुट्टियां ख़त्म होने जा रही हैं. जहां एक जुलाई के बाद से स्कूल खुलने वाले हैं. दूसरी ओर देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों ने अभिभावकों की चिंता बढ़ा दी है. इस बीच स्कूलों के प्रिंसिपल का कहना है कि ऑफलाइन पढ़ाई में बाधा पैदा होती है. इसके लिए छात्रों को वैश्विक महामारी के साथ जीना सिखाने के लिए स्कूल खोले जाने जरूरी है.

ऐसे करें बचाव

ऐसे में बच्चों को कोरोना से कैसे बचाया जाए यह जानकारी देना अति आवश्यक है. आप अपने बच्चों को अगर महामारी के दौर में बचाना चाहते हैं और उन्हें स्कूल भी भेजना चाहते हैं तो उन्हें इस बारे में जानकारी देना जरूरी है.

-बच्चों को हाथ धोने के बारे में और सेनिटाइज़्ड करने के बारे में जरूर जानकारी दें.
-अधिकांश बच्चे लिखते पढ़ते वक़्त चीज़ें जैसे पैन और पेंसिल को मुँह में डाल लेते हैं. ऐसी आदतों के लिए बच्चों को सख्ती से मना करें.
-बच्चों को सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में बताएं.
-बच्चों को चेहरे और हाथों को न छूने की आदत सिखाएं और इसपर जोर दें.

इन राज्यों में बढ़ा कोरोना

देश में इस समय कोरोना के बढ़ते मामलों के लिए केरल, महाराष्ट्र, दिल्ली, उत्तरप्रदेश और कर्नाटक को जिम्मेदार माना जा रहा है. यही वो राज्य हैं जहां आज सबसे ज़्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. जहां महाराष्ट्र में यह मामले काफी चौका देने वाले हैं. जहां रोज़ाना कोरोना के नए केसेस की संख्या हज़ारों में दर्ज़ की जा रही है. आज भी महाराष्ट्र में कोरोना के 4205 नए मामले देखे गए. बता दें, दिल्ली में बीते दिनों 2000 से अधिक मामले दर्ज़ किए गए थे.

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news