Papaya Side effects:

नई दिल्ली. Papaya Side effects: डॉक्टर अक्सर फलों का सेवन करने के लिए सलाह देते हैं। लेकिन आपके लिए सभी फल फायदेमंद हो ये ज़रूरी नहीं है. हम आपको बता दें कि कुछ लोगों के लिए पपीता सेवन करना बेहद ख़तरनाक होता है, आइए हम आपको बताते है कि किन लोगों को पपीता का उपयोग नहीं करना चाहिए।

फलों को पोषक तत्व का स्वरुप कहा जाता है। इन्हीं फलों में से एक पपीता भी है जो विटामिन, फाइबर और कई खनिज पदार्थ देते हैं। आज के डेट में पपीता हर समय में आसानी से मिल जाता है। वहीं पपीते को सलाद के रुप में भीं उपयोग किया जाता है, इसके पोषक तत्व के जरिए डायबिटीज, हृदय रोग, कैंसर और अन्य रोग से बचाकर रखते है, पपीता में मौजूद फाइबर, पेट में लंबे समय तक भरा हुआ रखता है। वजन संतुलित करने और घटाने में भी मदद करता है, लेकिन ये भी जान लिजिए कि पपीता खाने के केवल फायदे ही नहीं बल्कि इसके कई नुकसान भी हैं। जो कुछ लोगों में नमूना मिल सकते हैं। ऐसे में हम आपको बताएंगे कि किन व्यक्ति को पपीता नहीं खाना चाहिए।

गर्भवती महिलाओं को नहीं करना चाहिए पपीता का सेवन

गर्भवती महिलाओं को खान-पान पर काफी ध्यान रखना होता है। लेकिन गर्भवस्था में पपीता का सेवन करने से बचना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि पपीता मीठा होता है और इसमें लेटक्स की मात्रा काफी होता है। इससे गर्भाशय का शिशु थोड़ा और नीचे चला आता है। इसकी वजह से प्रसव जल्दी भी हो सकता है और इसमें पपैन होता है, जिससे शरीर प्रोस्टाग्लैंडीन समझने में दिकत हो सकता है। पपीते के सेवन से भ्रूण को हेल्प देने वाली झिल्ली को भी कमजोर कर देता है,

पपीते के सेवन से हृदय रोग को कम किया जा सकता है। लेकिन जब आपको पहले से इरेगुलर हार्टबीट की समस्या हैं तो पपीता से दूर ही रहना चाहिए, हाल ही में खोज हुआ हैं कि पपीता के अंदर साइनोजेनिक ग्लाइकोसाइड होता है, जो अमीनो एसिड है। यह पाचन तंत्र में हाइड्रोजन सायनाइड का उत्पादन करता है। हालांकि नुकसानदायक नहीं होता। लेकिन इरेगुलर हार्टबीट की समस्या है, तो आपके लिए जहर के समान हैं. इसके अलावा कोई व्यक्ति हाइपोथायरायडिज्म मरीज हैं तो भी आपको नुकसान पहुंचा सकता है।

 

यह भी पढ़ें:

Kalicharan Arrest : महात्मा गांधी पर अभद्र टिप्पणी करने वाले कालीचरण को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Naseeruddin Shah Controversial Statement मुगलों और मुस्लिमों पर किए अपने बयान के चलते ट्रोल हुए

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर