नई दिल्ली. हेयर, हेयर स्टाइल और सुंदर बाल महिलाएं कैसे रखें, इसे लेकर वह काफी परेशान रहती हैं. बढ़ते पॉल्यूशन और खान-पान की वजह से बालों को स्वस्थ रखना और भी चैलेंजिंग हो गया है. कर्लस, रिबाउंडिंग, स्मूदनिंग के बाद अब हेयर केराटिन काफी चर्चा में हैं. आज कल प्रोटीन का हवाला देते हुए हेयर केराटिन काफी चर्चा में हैं. इसे ट्रीटमेंट कहा जाता है जिससे बालों को बालों का प्रोटीन यानी केराटिन दिया जाता है. आइए जानते हैं क्या है हेयर केराटिन, कैसे होता है और कितना खर्चा आता है इस ट्रीटमेंट में.

वर्किंग महिलाओं के लिए बालों को मैनेज करना और भी मुश्किल हो जाता है. जिसकी वजह है रिबाउंडिंग का चलन काफी बढ़ा. इस प्रक्रिया से बाल सीधे और सिल्की हो जा जाते हैं जिससे महिलाओं का लुक में शानदार हो जाता है. लेकिन रिबाउडिंग में काफी कैमिकल का यूज होता है जिसकी वजह से आजकल इसका चलन कम हो गया है. इसके जस्ट बाद आजकल हेयर केराटिन का चलन बढ़ गया है. जिनके बाल कर्ली, घुमावदार व रफ होते हैं तो उनके लिए इस ट्रीटमेंट को बेहतर बताया जाता है.

ऐसा किया जाता है हेयर केराटिन
हेयर केराटिन करवाने में रिबाउंडिंग के मुकाबले काफी समय लगता है.रिबाउंडिंग में जहां तीन-चार तरह का कैमिकल का यूज किया जाता है वहीं हेयर केराटिन में सिर्फ एक क्रीम का प्रयोग किया जाता है. इस क्रीम को बालों में बराबर हिस्सों में लगाया जाता है और बालों की लेंथ के हिसाब से 90 मिनट या उससे ज्यादा समय तक रखा जाता है. फिर हेयर वॉश नहीं किया जाता बल्कि हेयर में तेज गर्म आयरन से बाल स्ट्रेट किये जाते हैं. ऐसा करने से बाल पहले के मुकाबले सीधे, मुलायम व शाइनिंग दिखने लगते हैं.

हेयर केराटिन कितने समय तक रहता है
हेयर केराटिन को डॉक्टर और जानकार रिबाउंडिंग के मुकाबले ज्यादा किफायती बताते हैं. इससे करने से 100% बाल सीधे नहीं होते बल्कि 75-80 प्रतिशत तक ही सीधे होते हैं. इस ट्रीटमेंट का मकसद बालों में प्रोटीन देने का होता है. जो कि 3-5 महीनों तक ही रहता है.

किसे करवाना चाहिए हेयर केराटिन और किसे नहीं

जानकार बताते हैं कि हेयर केराटिन उन लोगों के लिए ज्यादा उपयोगी सिद्ध होता है जो अक्सर कलर या कोई न कोई केमिकल लेते रहते हैं. साथ ही ये बार बार स्पा व बाल प्रेस करने वालों के लिए भी ठीक रहता है. हालांकि जिनके बाल ज्यादा खराब है या झड़ते हैं तो उन्हें डॉक्टर की सलाह से ही इस ट्रीटमेंट को करवाना चाहिए.

हेयर केराटिन में कितना आता है खर्चा
रिबाउंडिंग का जैसे चलन बढ़ा था तो ये छोटे सेलून पर 3 हजार तक में हो जाती थी लेकिन शुरुआत में इसका खर्चा भी 10 हजार तक का आता था. वहीं हेयर केराटिन इन दिनों ज्यादा चलन में हैं और प्रोटीन के नाम पर इसकी कोस्ट 10-15 बैठती है. हालांकि हेयर केराटिन करवाने के लिए अच्छे सेलून पर ही जाना चाहिए जो कि क्वालिटी की क्रीम लगाए. क्योंकि कुछ पार्लर व सेलून वाले कम पैसा का झांसा देकर सस्ती क्रीम का इस्तेमाल करते हैं जिससे बालों को काफी नुकसान होता है.

Unnao Rape Case: दिल्ली तीस हजारी कोर्ट का बड़ा फैसला, उन्नाव रेप केस में कुलदीप सिंह सेंगर को उम्र कैद, 25 लाख का जुर्माना

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर