नई दिल्ली. Karwa Chauth 2019 Sargi: हिंद धर्म की मान्यताओं के अनुसार करवा चौथ का त्योहार पूरे भारत में बड़े पारंपरिक तरीके से मनाया जाता है. इस दिन महिलाएं पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं. इस वर्ष का करवा चौथ का त्योहार 17 अक्टूबर 2019 को पड़ रहा है. इस दिन शादीशुदा महिलाएं सुबह जल्दी उठती हैं और सुबह के समय करवा चौथ की सरगी खाती हैं. सरगी एक पारंपरिक भोजन है जो महिला को अपनी सास से प्राप्त होता है.

करवा चौथ दिन सरगी बहुओं को उनकी सास द्वार दी जाती है ताकि वह व्रत पूरा कर सके. महिलाएं इस दिन निर्जला व्रत (भोजन और पानी के बिना) का पालन करती हैं और एक सारगी ही वे दिन भर खाती हैं. एक आदर्श सरगी एक थाली है जिसमें मिठाइयां और सेवइयां होती हैं और जिसमें ड्राई फ्रूट्स, नारियल, सेवइयां, मिठाई, फल, साड़ी और ज्वेलरी के उपहार मिल सकते हैं.

उत्तर भारत में, खासकर उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, पंजाब और हरियाणा में महिलाएं सरगी की परंपरा का पालन करती हैं. यह एक प्रथा है जिसमें महिलाओं को सुबह सूर्योदय से पहले उठना शामिल है. हिंदु रीति रिवाज के अनुसार, सास अपनी बहू को मिठाई, सेवई, सूखे मेवे, नारियल, मठरी और साड़ी, आभूषण और अन्य उपहारों की एक थाली देती है.

करवा चौथ 2019 के दिन सभी महिलाएं कथा और पूजा के लिए शाम के समय समूह में इकट्ठा होती हैं. कथा और पूजा के बाद, जब चंद्रमा नजर आता है, तो पत्नी करवा चौथ की चांदनी या छलनी के माध्यम से चंद्रमा की एक झलक लेती है और फिर छलनी के माध्यम से अपने पति की एक झलक लेती है. उसके बाद, पति अपनी पत्नी को करवा चौथ का व्रत तोड़ने के लिए पानी के साथ कुछ फल या मिठाइयां खिलाता है. आखिर में, पति अपनी पत्नी को करवा चौथ उपहार देता है.

करवाचौथ व्रत 2019 पूजा मुहूर्त समय: (Karwa Chauth Vrat 2019 Shubh Muhurat Time)

करवा चौथ 2019 पूजा मुहूर्त : 17:50:03 से 18:58:47 तक
अवधि :1 घंटे 8 मिनट
करवा चौथ 2019 चंद्रोदय समय : 20:15:59

Karwa Chauth 2019 Gifts: करवा चौथ पर ये स्पेशल गिफ्ट देकर पत्नी को करें सरप्राइज, यहां से लें आइडिया

Shardiya Navratri 2019: नवरात्र के छठे दिन मां दुर्गा के छठे रूप देवी कात्यायनी की होती है अराधना, जानें पूजा विधि, मुहूर्त, मंत्र समेत पूरी जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App