नई दिल्ली. करवा चौथ का व्रत साल 2019 में 17 अक्टूबर को मनाया जाएगा. सुहागिन महिलाओं को पूरे साल इस खास दिन का इंतजार रहता है. इस व्रत को पूरे देश में बड़े की उल्लास के साथ महिलाएं सेलिब्रेट करती हैं. महीने भर पहले से इस व्रत की तैयारियां महिलाएं करनी शुरु कर देती हैं. ऐसा नहीं है कि ये व्रत सिर्फ सुहागिन महिलाएं ही करती हैं. इस व्रत का प्रचलन बड़ी ही तेजी से बढ़ा है. अब सिर्फ सुहागिन महिलाएं ही नहीं करवा चौथ व्रत को कुंवारी लड़कियां भी उसी उल्लास के साथ करती हैं. साथ ही बड़ी संख्या में अब पुरुषों की भागीदारी भी इस व्रत में बढ़ी है.

करवा चौथ व्रत की तारीख और मुहुर्त:

तारीख- 17 अक्टूबर 2019, बृहस्पतिवार

पूजा का मुहूर्त: 17.46 बजे
(समय अवधि – 1 घंटे 16 मिनट)

करवा चौथ के दिन चन्द्रोदय- 20.20 बजे

चतुर्थी तिथि आरंभ- 06.48 बजे से (17.10.19)
चतुर्थी तिथि खत्म- 07.28 बजे तक (18.10.19)

करवा चौथ का व्रत कार्तिक महीने में कृष्ण पक्ष के चतुर्थी तिथि को रखा जाता है. करवा चौथ के दिन ही संकष्टी चतुर्थी व्रत भी होता है. संकष्टी चतुर्थी के दिन महिलाएं भगवान गणेश की पूजा अर्चना करती हैं. तो वही करवा चौथ के दिन महिलाएं भगवान शिव की पूजा-आराधना करती हैं. करवा चौथ को करक चतुर्थी भी कहा जाता है. करवा चौथ के दिन महिलाएं चांद के देखने के बाद व्रत खोलती है. करवा चौथ के दिन चांद की पूजा और अर्घ्य का विशेष महत्व होता है. चांद की पूजा और अर्ध्य के बाद ही महिलाएं अपने पति के चेहरे को देखने के बाद व्रत खोल खाना खाती है.

Surya Grahan 2019 Date: साल 2019 में लगने वाले हैं तीन सूर्य ग्रहण, जानिए डेट, समय और उसका प्रभाव

Happy Karwa Chauth 2018 wishes, messages, photos, quotes Highlights: करवा चौथ का चांद निकला, दोस्तों और रिश्तेदारों को भेजें ये स्पेशल मैसेज

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर