नई दिल्ली: उगादी का पर्व आज से यानी 6 अप्रैल से शुरु हो रहा है. आज ही के दिन चैत्र नवरात्रि भी शुरु भी हो चुका है. उगादी को युगादी के नाम से भी जाना जाता है. दक्षिण भारत में इस पर्व को बेहद ही खास तरीक से मनाया जाता है. कहा जाता है कि इस पर्व को नई फसल के आगमन की खुशी के लिए मनाया जाता है. इस पर्व को किसान बेहद ही शानदर तरीके से मनाते हैं. साउथ में आंध्र प्रदेश और कर्नाटक, तेलंगाना जैसे राज्‍यों में इस फेस्टिवल को प्रमुखता से मनाया जाता है.

कहा जाता है कि इसी दिन इस धरती पर सुर्य कि पहली किरण आई थी. इसलिए उगादी को नए साल के रुप में  भी मनाया जाता है. इसलिए कहा जाता है कि हमारे देश में अप्रैल के महीने में चैत्र नया साल मनाया जाता है.  कहते है कि इस दिन महयुधिष्ठिर और महाराज विक्रमादित्‍य का भी राज्‍याभिषेक हुआ था. इसी दिन व्रिकमादित्य ने शकों पर विजय प्राप्त की थी. इसी वजह से इस पर्व को उगादी के नाम से जाना जाने लगा. भारत के सभी राज्य में इस पर्व को अलग -अलग दिन मनया जाता है. महाराष्ट में इसे गुडी पुड़वा के नाम से जाना जाता है.

इस खास दिन घरों में साफ सफाई का काम किया जाता है और सजाया जाता है. यही नहीं पत्तों से अपने घरों को सभी भक्त
सजाते हैं. इस दिन कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में विशेष पेय बनाने की रीत चलती है. इसको पच्चड़ी के नाम से जाना जाता है. इसमें नारियल, नीम के फूल, और इमली जैसे चीजें मिलाकर बनाया जाता है. इसकी को इस पर्व का प्रसाद भी कहा जाता है जो दर्शकों के बीच बांटा जाता है.

Happy Ugadi 2019 images

Happy Gudi Padwa 2019 wishes in Marathi: गुड़ी पड़वा के मौके पर अपने मराठी दोस्तों को ऐसे भेजें शुभेच्छा

Happy Chaitra Navratri 2019 images: इस चैत्र नवरात्रि 2019 अपने रिश्तेदारों को व्हाट्सएप और फेसबुक GIF मैसेज भेजकर करें विश

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App