नई दिल्ली: आज नवरोज है. पारसी कैलेंडर के अनुसार नए साल के पहले दिन दुनिया भर में रहने वाले पारसी समुदाय के लोग बड़ी धूम-धाम से नवरोज मनाते हैं. इस साल 17 अगस्त को मनाया जाएगा. इस दिन नवरोज नववर्ष की मुबारकबाद देते है और एक-दूसरे को बधाई सन्देश भेजते है. नवरोज में पारसी परिवारों में बच्चे, बड़े सभी सुबह तैयार होकर, नए साल की तैयारि में लग जाते हैं. इस दिन पारसी मंदिर अगियारी में विशेष प्रार्थनाएँ संपन्न होती हैं. मंदिर में प्रार्थना का सत्र समाप्त होने के बाद समुदाय के लोग एक-दूसरे को नववर्ष की बधाई देते हैं.

पारसी न्यू ईयर के दिन पारसी लोग अपने घर की सीढ़ियों पर रंगोली सजाते हैं. चंदन की लकड़ियों से घर को महकाया जाता है. यह सब नए वर्ष के स्वागत के लिए ही नहीं, बल्कि हवा को शुध्द्र करने के उद्देश्य से भी किया जाता है. नवरोज के दिन भर घर में मेहमानों के आने-जाने और बधाइयों का सिलसिला लगा रहता है. यह त्योहार फारस के राजा जमशेद की याद में मनाया जाता है. इसी राजा ने फारसी कैलेंडर की स्थापना की थी. तभी से नवरोज मनाया जा रहा है. भारत के अलावा पाकिस्तान में बसे पारसी समुदाय के लोग भी बाकी जगहों से 200 दिनों बाद नवरोज मनाते है. भारत और पाकिस्तान में रहने वाले फारसी समुदाय के लोग ईरान से आए हुए है. क्योंकि ईरान में धर्म परिवर्तन किया जा रहा था इस लिए कुछ लोग भारत चले आए.

नए साल का जश्न होता है. लोग नए कपड़े पहने जाते है. पूरे घर की सफाई की जाती है. घर में कई प्रकार के पकवान बनाए जाते है. रिश्तेदार घर आते है. सब मिल कर धर्म स्थल जाते है और मिल कर पूजा करते है. फिर एर दूसरे को बधाई देते है. और एक दूसरे के अच्छे होने की कामना करते है. मन को साफ रखते हैं. ग्रेगोरियन कैलेंडर के मुताबिक यह दिन अगस्त महीने में पड़ता है.

Happy Parsi New Year 2018 Images, Quotes, GIF messages, Greetings, Facebook messages Wishes in Hindi LIVE

नया साल आया बन के उजाला,
खुल जाए आप की किश्मत का ताला,
हमेशा आप पर रहे मेहरबान ऊपर वाला,
आप को दुआ करता है ये चाहने वाला
”हैप्पी फारसी 2018”

”नया सवेरा एक नई किरण के साथ
नया दिन एक प्यारी मुस्कान के साथ
आपको ये नया साल मुबारक हो
मेरी ढेर सारी दुआओं के साथ

नवरोज मुबारक 2017 : जानिए क्यों मनाया जाता है ये त्यौहार

अफगानिस्तान में बड़ा बम धमाकाः काबुल यूनिवर्सिटी के पास विस्फोट में 26 लोगों की मौत, 18 घायल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App