नई दिल्ली. भारत में 1 मई को मजदूर दिवस ( Labour Day) मनाया जाएगा. लेबर डे को कामगार दिवस, कामगार दिन, अंतरराष्ट्रीय श्रामिक दिवस भी कहा जाता है. 1 मई 1923 को पहली बार भारत में सेलिब्रेट किया गया था. लेबर किसान पार्टी ने इसका आयोजन किया था. इस दौरान लाल झंडे को फहराया गया जो देश के मजदूर वर्ग को प्रदर्शित करता है. लेबर डे रात-दिन कड़ी मेहनत करने वाले मजदूरों के सम्मान और उनके हक के समर्थन में मजदूर दिवस मनाया जाता है. इस दिन मजदूर संगठन से जुड़े लोग रैलियां निकालकर अपने हक के लिए आवाज बुलंद भी करते हैं. मजदूर दिवस के मौके पर लोग एक दूसरे को एसएमएस, फेसबुक और व्हाट्सएप के जरिए कोट्स और शायरी भेजकर एक दूसरे को विश करते हैं.

विश्व में पहली बार साल 1886 में अमेरिका के शिकागो में लेबर डे की शुरुआत हुई थी, जिसके बाद धीरे-धीरे यह दुनियाभर में फैलता चला गया. 1886 में अमेरिका के शिकागो में 2 लाख मजदूरों ने 8 घंटे काम की मांग को लेकर देश व्यापी हड़ताल की थी. उस समय मजदूर 12-12 घंटों की लंबी शिफ्ट में काम करते थे और उन्हें वेतन भी कम दिया जाता था. मजदूरों के प्रदर्शन के दौरान शिकागो के एक मार्केट में धमाका हो गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे मजदूरों पर गोली चला दी, जिसमें 7 मजदूरों की मौत हो गई. उस समय यह मामला और भड़क गया. दुनियाभर के देशों में मजदूरों के लगातार प्रदर्शन से दबाव बनना शुरू हो गया. साल 1889 में पेरिस में इंटरनेशनल महासभा की बैठक हुई और प्रस्ताव पारित किया गया कि सभी देशों में अंतराष्ट्रीय मजदूर दिवस सेलिब्रेट किया जाएगा.

Image result for Labour day

Image result for Labour day

Far and away the best prize that life offers is the chance to work hard at work worth doing.

 – Thomas Jefferson

It is only through labor and painful effort, by grim energy and resolute courage, that we move on to better things.

 – Theodore Roosevelt

Man is so made that he can only find relaxation from one kind of labor by taking up another.

 – Anatole France

Happy Labour Day 2019: लेबर डे पर इन फेसबुक, व्हाट्सएप मैसेज और शायरी के साथ करें विश

International Workers Day 2019: दुनियाभर में 1 मई को ही क्यों मनाया जाता है मजदूर दिवस? जानिए इसका इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App