नई दिल्ली. देश में धूमधाम से मनाया जाने वाला एक त्योहार दशहरा भी है जिसे विजयदशमी के रूप में भी जाना जाता है. इस साल यह 8 अक्टूबर मंगलवार को मनया जाएगा. हम आपको इस आर्टिकल में दशहरा विजयदशमी के मौके पर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को हिंदी शायरी मैसेज भेजने के लिए शायरी दे रहे हैं. इन हिंदी शायरी और मैसेज को भेजकर आप अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को शुभकामनाएं दे सकते हैं.

इस दिन को लंका (श्रीलंका) के राजा रावण पर भगवान राम ने जीत हासिल की थी और यह विजय बुराई के खिलाफ अच्छाई की जीत का प्रतीक है. इस दिन, देश भर में बुराई पर अच्छाई की जीत की जीत का संकेत देने के लिए रावण के पुतले जलाए जाते हैं. भारत के कुछ हिस्सों में, इस दिन को विजयदशमी के रूप में भी मनाया जाता है, जिस दिन देवी दुर्गा ने राजा महिषासुर को हराया था. हालांकि सभी त्योहारों में सामान्य विषय बुराई पर अच्छाई की जीत है. इसी तरह से दशहरा उत्सव हाथी जुलूस, देवी दुर्गा की मूर्तियों के विसर्जन और रावण और उसके भाइयों कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतलों को जलाने के साथ मनाया जाता है.

दशहरा विजयादशमी के मौके पर ये हिंदी शायरी, मेसेज भेजकर दें शुभकामनाएं

मर्यादा के बंधन छोड़ना पड़ेंगे
रावण को मारना है तो
सारे सिद्धांत छोड़ना पड़ेंगे

राम-नाम जो जप रहे, कर रावण सा काम।
‘सलिल’ राम ही करेंगे, उनका काम तमाम।।

रहें भूखा न कोई आए सबके घर में खुशहाली,
भले कर्मों की जय हो देश हो दुष्कर्म से खाली।

पढ़े गुरुग्रंथ, बायबिल बाँच ले कुरान, रामायण,
विजयदशमी में राघव फिर धराशायी करें रावण।

यही संदेश देता है दशहरा सबका मनभावन,
विजयदशमी में राघव फिर धराशायी करें रावण।

मैंने महसूस किया है उस जलते हुए रावण का दुःख
जो सामने खड़ी भीड़ से बारबार पूछ रहा था
तुम में से कोई राम है क्या?

संकटों का तम घनेरा
हो न आकुल मन ये तेरा
संकटों के तम छटेंगें
होगा फिर सुंदर सवेरा
मुबारक हो आपको दशहरा

दशहरे का पावन पर्व सत्य की जीत का सन्देश दे रहा हैं,
बुराई का दशानन अच्छाई की अग्नि में विध्वंस हो रहा हैं,
प्रभु श्रीराम के आचरण और इस पर्व के सन्देश को अपनाएँ।
इसी के साथ दशहरा पर्व की हजारो-हजार शुभकामनायें।

बुराई को खुद से और इस देश से दूर भगाओ,
अच्छाई को अपने जीवन में अपनाओ।
रावण को जलाओ और भ्रष्टाचार मिटाओ,
प्रगति के पथ पर भारत देश को आगे बढ़ाओ।

कभी भी दुःख का आप पर पड़े ना साया,
राम जी के नाम का ऐसा असर हैं छाया।
हर पल धन धन्य आये आपके अंगना,
हैं वियजदशमी पर मेरी यही मनोकामना।

अधर्म पर धर्म की विजय
असत्य पर सत्य की विजय
बुराई पर अच्छाई की विजय
पाप पर पुण्य की विजय
अत्याचार पर सदाचार की विजय
क्रोध पर दया, क्षमा की विजय
अज्ञान पर ज्ञान की विजय
रावण पर श्रीराम की विजय
के प्रतीक पावन पर्व
विजयादशमी की हार्दीक शुभकामनायेँ।

Also Read ये भी पढ़ें

Dussehra 2019 Ravan Dahan Muhurat: 8 अक्टूबर को मनाया जाएगा दशहरा, जानें पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और विजयादशमी का महत्व

Happy Dussehra 2019 Wishes in Hindi: इस साल विजयदशमी पर अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को इन हिंदी मैसेज के जरिए करें विश

Vijayadashami 2019: जानिए कब है विजयादशमी और रावण दहन का शुभ मुहूर्त

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App