नई दिल्ली, देश में एक बार से कोरोना वायरस के मामले एक बार फिर से बढ़ने लगे हैं, स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, भारत में पिछले 24 घंटे में 1247 नए कोरोना के मामले सामने आए हैं. ऐसे में एक्सपर्ट कोरोना संक्रमण से बचे रहने के लिए उचित सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं. पिछले लगभग 2 सालों से लगातार कोरोना के नए वैरिएंट्स सामने आ रहे हैं, ऐसे में एक्सपर्ट्स का कहना है कि जो लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं, उन्हें कुछ घातक स्वास्थ जोखिम या साइड इफेक्ट का खतरा हो सकता है.

हो सकती हैं ये बीमारियां, हो जाएं सावधान

कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद रिकवर हुए लोगों मेें लंबे समय तक कुछ लक्षण पाए गए, जिसे लॉन्ग टर्म कोविड कहा जाता है. कुछ समय पहले ओमिक्रॉन वैरिएंट के समय लोगों में गंभीर लक्षण नहीं देखे गए लेकिन एक स्टडी के मुताबिक, जिन लोगों को पिछले साल कोविड हुआ था, उन्हें अगले 12 महीनों में कुछ गंभीर स्वास्थ समस्याएं हो सकती हैं. यहां तक ​​​​कि जो लोग कोरोना के कारण हॉस्पिटल में भी एडमिट नहीं हुए थे, उन लोगों को भी स्वास्थ्य संबंधित दिक्कतें हो सकती हैं.

नेचर मेडिसिन की स्टडी के मुताबिक, कोरोना का लॉन्ग टर्म लक्षण हार्ट सिस्टम में देखा जा सकता है. इनमें कार्डियक अरेस्ट, हृदय गति रुकना, स्ट्रोक, अनियमित हृदय रिदम, रक्त के थक्के जमना, ब्लड वेसिल्स डिसीज और सूजन संबंधित बीमारियों का खतरा भी शामिल है.

इन जिलों में मास्क अनिवार्य

कोरोना के मामले एक बार फिर बढ़ने लगे हैं. ऐसे में, गाजियाबाद, नोएडा, गुड़गांव और फरीदाबाद में अब लोगों के लिए सार्वजनिक स्थानों पर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है. हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने चार जिलों के लिए नियमों का ऐलान करते हुए कहा है कि सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क घूमने वालों का चालान किया जाएगा. इसमें गुड़गांव और फरीदाबाद के अलावा झज्जर और सोनीपत जैसे जिले भी शामिल हैं.

 

जहांगीरपुरी हिंसा: आरोपी सोनू ने कबूला जुर्म, कहा- मैंने की थी फायरिंग, 72 घंटे बाद ये है हालात

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर