नई दिल्ली. शादीशुदा जिंदगी को लेकर महिलाओं और पुरूषों की सोच एक-दूसरे से अलग होती है. एक रिपोर्ट के अनुसार यह दावा किया गया है कि अगर शादीशुदा लाइफ में टेंशन हैं तो इसे लेकर जहां महिलाएं ज्यादा दुखी और परेशान रहती हैं, वहीं पुरुषों के लिए यह छोटी बात होती है. ऐसी स्थिति में पार्टनर के बीच लड़ाईयां होती है.
 
अब ऐसी परेशानियां हैं तो इसका ध्यान रखें
 
इमोशनल फुल न बने
लड़के इमोशनल होने के मुकाबले प्रोक्टेटिव ज्यादा होते हैं और लड़कियां इमोशनल. ऐसे में जिस बात को लड़कियां इमोशनल होकर सोचती है, वहीं दूसरी तरफ लड़के प्रेक्टिकल होकर सोचते है. ये बात दोनों को समझना चाहिए.
 
एक-दूसरे को पर्सनल स्पेस दें
हर किसी के लिए पर्सनल स्पेस बहुत जरूरी होता है, चाहे आप शादीशुदा हो या रिलेशन में. इसलिए ध्यान रखें कि एक-दूसरे के पर्सनल स्पेस को खत्म होने न दे.
 
सेल्फ रिसपेक्ट बनाए रखें
किसी भी रिलेशन में रिसपेक्ट सबसे जरूरी होता है, इसलिए ध्यान रहें कितनी भी आपकी आपके पार्टनर से टेंशन हो, कुछ ठीक नहीं चल रहा हो फिर भी एक दूसरे से रिस्पेक्ट और खुल कर बात करे.