नई दिल्ली. छुपा हुआ कैमरा आजकल लोगों के लिए मुसीबत का सबब बन गया है. होटल, ट्रायल रूम, बाथरूम या कोई भी जगह हो छुपे हुए कैमरे का डर बना रहता है. लड़कियों के लिए तो खासतौर से इसने परेशानी खड़ी कर दी है. ट्रायल रूम में छुपा हुआ कैमरा लगे होने के कई मामले सामने आ चुके हैं.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अब ऐसे में जरूरी हो जाता है कि इस समस्या को कुछ तो निजात किया जाए. किसी को छुपा हुआ कैमरा लगाने से तो रोका नहीं जा सकता लेकिन हम अपनी सुरक्षा के लिए यह जरूर पता लगा सकते हैं कि ऐसा कैमरा कहां लगा है. इसमें आपकी मदद आपका स्मार्टफोन कर सकता है. लेकिन, कैसे ये हम आपको बता रहे हैं: 
 
फोन करें 
छुपे हुए कैमरे का पता लगाने में स्मार्टफोन आपकी मदद कर सकता है. इसके लिए आप जब भी किसी ट्रायल रूम में जाएं, तो अपने किसी दोस्त को फोन करें. अगर फोन नहीं हो पाता है, तो समझ लें कि उस कमरे में छुपा हुआ कैमरा हो सकता है. इसके पीछे ये कारण होता है कि सिग्नल ट्रांस्फर होने में फाइबर आॅपटिक केबल व्यवधान उत्पन्न करती हैं. 
 
हिडन कैमरा डिटेक्टर एप डाउनलोड करें
अपने फोन में हिडन कैमरे का पता लगाने वाला एप डाउनलोड करें. आपको कमरे में जिस जगह या सामान में छिपा हुआ कैमरा लगा होने का शक है, उसके पास अपना फोन लेकर जाएं. तब कैमरा डिटेक्टर मैग्नेटिक एक्टिविटी को ढूंढेगा और अगर यह पाई गई तो एप अलार्म बजा देगा. ऐसे में उस जगह पर छुपा हुआ कैमरा होने की संभावना है. 
 
कैमरे का इस्तेमाल करें
ट्रायल रूम में अगर आपको जरा सा भी शक होता है तो स्मार्टफोन से फोटो खींचें. अगर फोटो खींचने पर इरीटेटिंग सी आवाज आए तो इसका मतलब कमरे में छिपा हुआ कैमरा लगा है. 
 
फोन को बनाएं बॉडीगार्ड
स्मार्टफोन में बॉडीगार्ड नाम का एप डाउनलोड करें. इस एप को आॅन करके जब आप मोबाइल कमरे में घुमाएंगे तो छुपा हुआ कैमरा लगा होने पर इसमें लाल रंग का निशान ब्लिंक करने लगेगा.