हॉस्टन. शोधकर्ताओं ने एक ऐसी विधि का इजाद किया है जिससे कैंसर की कोशिकाओं को मात्र 2 घंटे में खत्म किया जा सकता है. इस रिसर्च से ट्यूमर और बच्चों को भी घातक बीमारियों से बचाने में मदद मिलेगी. इस विधि के द्वारा केमिकल कंपाउंड ‘नाइट्ररोबेन्जलडिहाइड्राइड’ का इंजेक्शन तैयार किया गया है, जो ट्यूमर की कोशिकाओं का खात्मा कर सकती है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
शोधकर्ताओं के मुताबिक कैंसर कोशिकाओं पर प्रकाश किरणें फोकस की जाएंगी, जिससे वे काफी एसिडिक हो जाएंगी. एसिडिक होने के कारण कोशिकाएं मर जाती हैं. उन्होंने कहा कि कैंसर की 95 फीसदी कोशिकाओं को इस विधि से मात्र 2 घंटे में खत्म किया जा सकता है.
 
टेक्सास यूनिवर्सिटी के मैथ्यू गोड्विन के मुताबिक उन्होंने सबसे खतरनाक कैंसर ‘ब्रैस्ट कैंसर’ पर इस विधि का प्रयोग भी किया है. वहीं उन्होंने कहा कि लैब में इसका प्रयोग ट्यूमर से पीड़ित चूहों पर किया गया जो कि सफल रहा.
 
किमोथेरेपी ट्रिटमेंट से शरीर की सभी कोशिकाएं प्रभावित होती हैं. जिसके कारण कैंसर के मरीजों के बाल खत्म हो जाते हैं और मरीज कमजोर हो जाते हैं. लेकिन नई विधि ज्यादा सटीक है और यह सिर्फ ट्यूमर को ही खत्म करती है.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
गोड्विन अपने रिसर्च को और कारगर बनाने में जुटे हैं. वे एक ऐसे नैनो पार्टिकल को विकसित करने में लगे हैं जिसे इंजेक्शन के जरिए में शरीर में पहुंचाया जाएगा. उससे मेटास्टेसाइज कैंसर कोशिकाओं को खत्म करने में मदद मिलेगी.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App