न्यूयार्क. बेबी प्रोडक्ट्स बनाने वाली जॉनसन एंड जॉनसन (जेएंडजे) कंपनी के प्रोडक्ट्स एक बार फिर विवादों में आए हैं. कंपनी के प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने से महिला को कैंसर हो गया है.
 
रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिका की एक अदालत ने कंपनी को एक महिला को 365 करोड़ (5.5 करोड़ डॉलर) मुआवजा देने का आदेश दिया है. महिला ने दावा किया था कि कंपनी के टैल्कम पाउडर का प्रयोग करने पर उसे गर्भाशय का कैंसर हो गया था. जेएंडजे ने कहा है कि इस मामले में वह आगे भी अपील करेगी और अपने उत्पादों का बचाव करेगी.
 
महिला ने किया यह दावा
अपने पक्ष में फैसला आने के बाद पीड़ित महिला ने कहा कि वह 40 साल से हाइजीन के तौर पर जॉनसन के दो टैल्कम पाउडर-बेबी पाउडर और शॉवर टू शॉवर का इस्तेमाल करती आ रही हैं. 2011 में उन्हें ओवेरियन कैंसर का पता चला. ऑपरेशन के दौरान डॉक्टरों को ओवरी में टैल्कम पाउडर के अंश मिले.
 
महिला के वकील ने कोर्ट को बताया कि कंपनी के दस्तावेजों से पता चलता है कि उसे 1970 के दशक से ही इस बात की जानकारी थी कि टेल्कम पाउडर से सेहत को नुकसान हो सकता है, लेकिन इसे छिपाया गया.
 
कंपनी को दूसरी बार कोर्ट का झटका
दरअसल जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी को दूसरी बार कोर्ट ने ज़ोरदार झटका दिया है. जेएंडजे के खिलाफ करीब 1200 केस दर्ज है. आरोप है कि कंपनी के टैल्कम पाउडर इस्तेमाल करने से कई लोगों में कैंसर का खतरा बढ़ रहा है. तीन सप्ताह तक मिसौरी स्टेट कोर्ट में चले ट्रायल के बाद महिला ग्लोरिया राइटसउंड को इस मामले में जीत हासिल हुई.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App