पेरिस. फ्रांस ने दर्शकों की बहस के बाद आखिरकार मॉडलिंग जगत में ज्यादा दुबली मॉडलों के प्रवेश पर रोक लगा दी है. हालांकि ऐसी मॉडल अगर फिर भी रैंप पर उतरना चाहती है तो उन्हें पहले डॉक्टर से लिया एनओसी दिखाना पड़ेगा. 
 
उल्लंघन करने पर लगेगा जुर्माना
 
जरूरत से ज्यादा दुबली मॉडलों से काम लेने वाले मालिकों को कानून का उल्लंघन करने के मामले में छह माह की जेल हो सकती है और उन पर 82,000 अमेरिकी डॉलर का जुर्माना लगाया जा सकता है. डिजिटल रूप से संपादित की गई तस्वीरों के लिए 40,600 डॉलर का जुर्माना चुकाना पड़ सकता है.
 
विज्ञापन को भी दिए निर्देश
 
इस बाबत पिछले गुरुवार को पारित हुआ एक कानून भी तय करता है कि विज्ञापनों में नजर आने वाली जिन मॉडलों की बॉडी शेप को पतला-दिखाने के लिए ‘ऑल्टर’ किया गया है, उन्हें तस्वीरों पर ‘संपादित फोटो’ लिखा जाए.
 
इस वजह से होती है बीमारियां
 
यह कदम एनोरेक्सिया (भूख का मरना) नामक लक्षण से निपटने के लिए वृहद स्तर पर चलाए गए अभियान का हिस्सा है. इस लक्षण से ग्रस्त लोगों की मृत्युदर ज्यादा है. फ्रांस में 30 से 40 हजार लोग एनोरेक्सिया से ग्रसित हैं, जिनमें से लगभग सभी नाबालिग हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App