हृयूस्टन. भारतीय मूल की अमेरिकी महिला और उनकी टीम ने एक ऐसा हाइड्रोजेल सुपर कंडोम तैयार किया है जिससे एचआइवी को रोकने में मददगार मिलेगी. इस कंडोम की खास बात यह है कि सेक्स के दौरान न कंडोम फटने का डर होगा और न ही एड्स का खतरा होगा.
 
ये कंडोम एचआईवी के घातक वायरसों के फैलाव को रोकने में बेहद कारगर साबित हो सकता है.टेक्सास के ए एंड एम यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर महुआ चौधरी और उनकी टीम ने इस ‘नॉन-लैटेक्स कंडोम’ का विकास किया है. 
 
इस कंडोम को इलास्टिक पोलिमर से बनाया गया है जिसे हाइड्रोजेल कहा जाता है. इसमें पौधों से लिए गए एंडीऑक्सिडेंट को शामिल किया गया है. इस एंटीऑक्सिडेट में एचआईवी से लड़ने का विशेष गुण होता है, जो कंडोम फट जाने पर भी एचआईवी वायरस को मार देता है.
 
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App