लंदनः पृथ्वी की लाइफ लाइन सूरज को को लेकर कुछ वैज्ञानिकों ने अब तक की सबसे बड़ी भविष्यवाणी की है. जिसके मुताबिक आने वाले 10 अरब साल बाद सूरज अपना अस्तित्व खो देगा और मात्र एक इंटरस्टेलर गैस और धूल का एक चमकता हुआ छल्ला मात्र बनकर रह जाएगा. वैज्ञानिको के मुताबिक इस प्रक्रिया को प्लेनेटरी नेबुला के कहा जाता है. जिसमें नेबुला ब्रह्मांण में मौजूद तारों की सक्रियता में 90 प्रतिशत तक की कमी का संकेत देता है.

पिछले कुछ सालों तक वैज्ञानिक इस बारे इस बारे में निर्णय नहीं कर पाए थे कि हमारी आकाश गंगा में मौजूद सूरज भी उसी तरह खत्म हो जाएगा. हमारे अंतरिक्ष में मौजूद सूरज के बारे में वैज्ञानिकों का कहना है कि इसका वजन इतना कम है कि इसे स्पष्ट दिखने वाले ग्रहों की नेबुला बना पाना बहुत मुश्किल है. जिसकी संभावना का पता करने के लिए वैज्ञानिकों की एक टीम ने डेटा-प्रारुप वाला एक नये ग्रह को विकसित किया है. जो किसी भी तारे की लाइफसाइकल का सही अनुमान लगा सकता है. इस मॉडल का इस्तेमाल कर वैज्ञानिक ग्रह की चमक का अंदाजा लगाने के लिए कर सकते हैं.

इस पूरे मामले पर ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर की एलबर्ट जिलस्त्रा ने कहा, एक तारा जब अपने जीवन की अंतिम समय में होता है तो वो तारा अंतरिक्ष में गैस और धूल का एक बड़ा गुबार छोड़ता है जिसकों साइंस की भाषा में अनवलप कहा जाता है. ये एनवलप इतना का वजन तारे के वजन के आधे के बराबर होता है. तारे के अंदरूनी गर्म भाग के कारण ही ही उसके द्वारा छोड़ा जाने वाला एनवलप करीब 10 हजार सालों तक तेज चमक के साथ दिखाई देता है. इसकी के चलते ग्रहों की नेबुला को भी साफ देखा जा सकता है.

उन्होंने बताया कि ‘नए फोर्मेट में दिखाया गया है कि जब एनवलप छोड़े जाने के बाद तारे सामान्य से तीन गुना तेजी से और ज्यादा गर्म होते हैं. जिसके चलते सूरज जैसे कम वजन वाले तारों के लिए चमकदार नेबुला बना पाना आसान हो जाता है.वैज्ञानिकों की सूरज के बारे में ये अबतक की सबसे बड़ी भविष्यवाणी है जिसके मुताबिक आने वाले 10 अरब साल बाद सूरज अपना अस्तित्व खो देगा और पृथ्वी समेत पूरे अंतरिक्ष में अंधेरा छा जाएगा. और पृथ्वी पर जीवन की समाप्ति हो जाएगी.

 

ये हैं दुनिया के 25 सबसे विशालकाय जीव, देखकर आप भी कहेंगे OMG

गर्मियों की तेज धूप कहीं छीन न ले आपका सुंदर रूप, ऐसे रखें ध्यान

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App