July 17, 2024
  • होम
  • क्या होता है गोल्डन ब्लड ग्रुप और क्यों है यह इतना खास?

क्या होता है गोल्डन ब्लड ग्रुप और क्यों है यह इतना खास?

  • WRITTEN BY: Anjali Singh
  • LAST UPDATED : June 14, 2024, 10:05 pm IST

Rarest Blood Group: आम तौर पर इंसान के शरीर में A, B, AB, और O जैसे 8 प्रकार के ब्लड ग्रुप पाए जाते हैं। लेकिन एक ऐसा ब्लड ग्रुप भी है, जिसके बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। इसे दुनिया में सिर्फ 45 लोगों में पाया गया है।

Rh Null ब्लड ग्रुप: गोल्डन ब्लड

यह ब्लड ग्रुप आरएच नल ब्लड ग्रुप (Rh Null Blood Group) कहलाता है। यह उन लोगों में पाया जाता है जिनका Rh फैक्टर नल होता है। इस ब्लड ग्रुप की विशेषता के कारण इसे ‘गोल्डन ब्लड’ भी कहा जाता है।

What is Golden Blood Group why is it special all over the world | क्या होता  है गोल्डन ब्लड ग्रुप, क्यों पूरी दुनिया में होता है खास?

दुर्लभता और महत्ता

साल 2018 में जब इस ब्लड ग्रुप की खोज की गई थी, तो पूरी दुनिया में सिर्फ 45 लोग ही ऐसे पाए गए थे जिनके पास यह ब्लड था। इस ब्लड ग्रुप के केवल 9 लोग ही ऐसे हैं जो अपना ब्लड डोनेट कर सकते हैं। इस वजह से यह दुनिया का सबसे रेयर और सबसे महंगा ब्लड ग्रुप है।

गोल्डन ब्लड ग्रुप की दुर्लभता और महत्व के कारण इसे विशेष देखभाल और संरक्षण की आवश्यकता होती है। यह ब्लड ग्रुप न केवल मेडिकल साइंस के लिए महत्वपूर्ण है, बल्कि इसे प्राप्त करने वाले लोगों के लिए जीवन रक्षक भी साबित हो सकता है।

 

ये भी पढ़ें: Viral Video: इंडोनेशिया में अजगर ने जिंदा औरत को निगला, पेट काटते ही नजर आया महिला का सिर

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन